सराहनीय / सिक्ख समाज के 100 परिवार मजदूरों के लिए रोजाना बांट रहे 12 क्विंटल केले और 500 पानी के पाउच

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

धौलपुर. कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए देश भर में चल रहे लाॅकडाउन में प्रवासी मजदूर अपने-अपने घरों की तरफ जा रहे हैं। प्रवासियों मजदूरों की सेवा करने के लिए सिक्ख समाज के लोग कई दिनों से मजदूरों को केले और पानी के पाउचों का वितरण कर रहे हैं। समाज के गुरमीत मान, अर्जुन सिंह आदि ने बताया कि धौलपुर के रूंदका पुरा में  सिक्ख समाज के करीब 100 परिवार रहते हैं। एेसे में समाज के सभी परिवार अपने-अपने हिसाब से प्रवासियों मजदूरों के लिए खाने का इंतजाम करते हैं, जिसके तहत सागर पाड़ा में कैंप भी 26 मार्च से चलाया जा रहा है। समाज के गुरमीत मान ने बताया कि सागर पाड़ा कैंप से प्रतिदिन प्रवासी मजदूरों को करीब 12 क्विंटल केले और 500 पानी के पाउच का वितरण किया जा रहा है। अर्जुन सिंह ने बताया कि देश में कोरोना को लेकर चल रहे लाॅकडाउन में सबसे ज्यादा मजदूरों को परेशानी हुई है। ऐसे में जहां हर समाज आगे से आगे बढ़कर प्रवासियों मजदूरों के लिए खाना आदि का इंतजाम कर रहा है। इसी प्रकार इस पुण्य के काम में सिक्ख समाज भी अपनी भागीदारी निभा रहा है।  
निरंकारी सेवादारों ने भी 300 प्रवासियों को दिए खाने के पैकेट: सतगुरु माता सुदीक्षा महाराज के आदेशानुसार कोरोना महामारी आपदा की स्थिति में निरंकारी सेवादार भी निरंतर मानवता की सेवा में योगदान दे रहे हैं। जिला कलेक्टर द्वारा निरंकारी सेवादारों द्वारा चाही गई सेवा के अंतर्गत  निरंकारी मिशन के जोनल प्रभारी वैध बनवारी लाल के निर्देशानुसार तथा जिला संयोजक भंवर सिंह की देख-रेख यह सेवा की गई। मध्य प्रदेश बॉर्डर से आए हुए लगभग 300 प्रवासी मजदूरों ट्रक ड्राइवर को सागरपाड़ा, राजस्थान बॉर्डर पर निरंकारी मिशन के सेवादारों ने खाने के पैकेट वितरित किए। वहीं सेवादारों द्वारा दिन भर राहगीरों को अलग-अलग तरीकें से सामान वितरण किया गया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना