करंट लगने से वन्‍यपशुओं की मौत:केशरबाग अभयारण्य में मृत मिले एक एक पैंथर, दो हाइना और एक सियार

धौलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृत पैंथर। - Dainik Bhaskar
मृत पैंथर।

जिला के केशरबाग अभयारण्य में ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति करने के लिए खडा विद्युत तंत्र जंगली जानवरो के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। अभयारण्य में खडे विद्युत तंत्र से गुरुवार रात्रि को चार जानवरो की करंट लगने से मौत हो गई। हादसे से वनविभाग के साथ प्रशासन के अधिकारी स्तब्ध है वही मृत जानवरो का घटना स्थल पर ही मैडीकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया गया है।

क्षेत्रीय वन अधिकारी एनसीएस धौलपुर रनवीर गुर्जर ने बताया कि धौलपुर रेंज अधीनस्थ नाका केशरबाग वन क्षेत्र में गश्त के दौरान शुक्रवार दोपहर 2 बजे करीब चरवाहे ने सूचना दी कि जंगल में चार जानवर मृत अवस्था में पडे हुए है। चरवाहे की सूचना मिलते ही आठमील से 500 मीटर दूर बसईडांग रोड पर पहुंचे तो अभयारण्य में विधुत पोलो के समीप एक पैंथर, दो आहिना व एक सियार मृत अवस्था में पडे हुए थे।

जानवरो की स्थिति देख विधुत करंट से मौत होने की संभावना जताई गई। हादसे को देख तुरंत उप वन संरक्षक वन्यजीव राष्ट्रीय चंबल घडियाल अभयारण्य सवाईमाधोपुर को सूचना दी गई। डीएफओ के निर्देश पर पुलिस, प्रशासन के अधिकारियों को घटना से अवगत कराया गया वही जानवरो की संदिग्ध मौत से पर्दा हटाने के लिए मैडीकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने का निर्णय किया गया।

एसडीएम धौलपुर भारती भारद्वाज की निगरानी में मैडीकल बोर्ड ने अभयारण्य में ही मृत जानवरो का पोस्टमार्टम किया गया। वन विभाग के अधिकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे है। जानवरो की मौत के कारणो का खुलासा होने के बाद वनविभाग के अधिकारी जानवरो की मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए विधुत निगम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की तैयारी कर रहे है।

खबरें और भी हैं...