अवैध खनन में मिलीभगत के आरोप में दो वनकर्मी निलंबित:वृक्षारोपण में धांधली के साथ ही अतिक्रमण करने का मामला, भरतपुर रहेगा दोनों का मुख्यालय

धौलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अरविंद कुमार मुख्य वन संरक्षक और अमर लाल मीणा क्षेत्रीय वन अधिकारी। - Dainik Bhaskar
अरविंद कुमार मुख्य वन संरक्षक और अमर लाल मीणा क्षेत्रीय वन अधिकारी।

अवैध खनन में मिलीभगत के आरोप में दो वनकर्मियों निलंबित किया गया। इस दौरान दोनों का मुख्यालय भरतपुर किया गया है। दोनों धौलपुर जिले के सरमथुरा उपखंड क्षेत्र के वन विभाग ऑफिस में थे।

मुख्य वन संरक्षक भरतपुर, आरसी मीणा ने निलंबन का आदेश जारी किया है। उन्होंने सहायक वनपाल एवं क्षेत्रीय वन अधिकारी सरमथुरा अमर लाल मीणा के साथ वन संरक्षक अरविंद कुमार को निलंबित किया है। दोनों का मुख्यालय भरतपुर किया है।

अमर लाल मीणा को स्टेट प्लान आरडीएफ 50 हेक्टेयर नाहरपुरा, अहिर पुरा, झिरी और बल्लापूरा में वृक्षारोपण के दौरान लापरवाही बरतने और वन संपदा को नष्ट करने के साथ ही अवैध खनन में मिलीभगत पाए जाने पर निलंबित किया गया है। इसी तरह अरविंद कुमार को वृक्षारोपण नाहरपुरा, झिरी, मल्लापुरा और नयापुरा में वन भूमि पर अतिक्रमण कर सरसों और गेहूं की फसल उगाने के साथ थाने का पुरा गांव में पत्थर की दीवार को तोड़ने के मामले में दोषी पाया गया है।

खबरें और भी हैं...