पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विरोध:आक्रोशित छात्राओं ने किया प्रदर्शन, बाजार में निकाला जुलूस, बोलीं- माफिया हड़पना चाह रहे स्कूल की जमीन

धौलपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विद्यालय की भूमि पर निर्माण कार्य रोके जाने और नोटिस चस्पा करने का विरोध, कोर्ट कैंपस पहुंची छात्राएं, एसडीएम से लगाई न्याय की गुहार

शहर के एकमात्र और करीब पचास वर्ष पूर्व बने राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के जर्जर पड़े पुस्तकालय भवन के शिक्षा विभाग के समसा द्वारा नवीन निर्माण कार्य के दौरान पुराने भवन को खत्म कर नया भवन बनाया जा रहा था लेकिन इस दौरान बालिका विद्यालय की प्रधानाचार्या को मिले नोटिस के बाद मंगलवार को स्कूल सहित शहर में हड़कंप मच गया, अग्रसेन कॉलोनी निवासी रामभरोसी वैश्य द्वारा करीब 50 साल पुराना नगर पालिका पट्टा होने की बात कहते हुए कोर्ट के माध्यम से विद्यालय को दिये नोटिस और पूर्व में ही काम बंद होने से मंगलवार को विद्यालय की बालिकायें आक्रोशित हो गई और स्कूल में अपने अध्ययन कार्य को छोड़ सड़कों पर उतर आयी और विरोध प्रदर्शन के साथ जमकर नारेबाजी की, ऐसे में सैकड़ों की संख्या में छात्राएं सड़क पर फर्श बिछाकर बैठ गई, इस विरोध प्रदर्शन में स्कूल विकास समिति के साथ शहर के गणमान्य नागरिक और आमजन भी शामिल हो गया, बाद में छात्राओं ने बाजार में रैली निकाली और कोर्ट केम्पस पहुंच एसडीएम से न्याय की गुहार लगाई।

छात्राओं के साथ विरोध प्रदर्शन कर रहे स्कूल विकास समिति से जुड़े राजकुमार भारद्वाज, महेंद्र सिंह परमार, दिनेश गुर्जर, अजय मीणा, काजल परमार के साथ स्कूल से जुड़े नागरिकों ने बताया की जब 50 साल से स्कूल चल रहा है, भवन पूर्व में ही बना हुआ था जिसके कुछ भाग का ही नवीन निर्माण कराया जा रहा था, अब भूमाफियाओं द्वारा कोर्ट के माध्यम से नोटिस दिया जा रहा जा रहा है जो पूरी तरह अनुचित है और बालिकाओं के स्कूल में अवैध कब्जे की तरह है, इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और यह विरोध प्रदर्शन जब तक चलेगा जब तक कि न्याय नहीं मिलता है, पूरे मामले में समसा के धौलपुर जिला समन्वयक मुकेश गर्ग ने बताया की दो कक्षा कक्षों का नवीन निर्माण कार्य समग्र विकास द्वारा संवेदक के माध्यम से कराया जा रहा था, जिसमें अब विवाद हो रहा है, बाड़ी ब्लॉक शिक्षा अधिकारी रामकुमार मीणा के साथ शिक्षा विभाग के अधिकारी, स्कूल की प्राचार्य शशि कुमारी सहित अन्य अधिकारी अब मामले में कोर्ट की सुनवाई के बाद ही आगामी कार्यवाही करेंगे।
बालिकाओं ने दिखाया रोष, किया विरोध, बाजार से लेकर कोर्ट कैम्पस तक हलचल
स्कूल की सैकड़ों बालिकाएं स्कूल के बाहर धरना प्रदर्शन करने के बाद बाजार में जुलूस निकालते हुए कोर्ट कैंपस पहुंची जहां उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया और न्याय की गुहार लगाई, उपखंड अधिकारी राधेश्याम मीणा ने भी बालिकाओं की विशाल रैली को देख मौके पर आकर बालिकाओं से मामले में जानकारी ली और आश्वस्त भी किया की विद्यालय की एक इंच भूमि भी नहीं जाने दी जायेगी। लेकिन बालिकाओं को समझाइश का कोई असर नहीं हुआ, बाद में स्कूल प्रशासन और छात्रसंघ के पदाधिकारियों के कहने पर करीब दो घंटे बाद बालिकाएं स्कूल वापस लौट गई।

विद्यालय की जमीन बचाने की मांग, शिक्षक संघ ने सौंपा ज्ञापन
राजस्थान शिक्षक संघ सियाराम के बैनर तले शिक्षकों ने राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में चल रहे निर्माण कार्य को रुकवाने एवं विद्यालय की जमीन पर कुछ लोगों द्वारा कब्जे की नीयत से अपनी जमीन होने का दावा करने के विरोध में उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

संगठन के प्रदेश उपसभाध्यक्ष सुरेश भारद्वाज ने बताया कि बालिका स्कूल के शिक्षकों, छात्राओं एवं आमजन से मिली सूचना के आधार पर कुछ लोगों द्वारा गर्ल्स स्कूल में चल रहे कक्षा- कक्षों के निर्माण कार्य को रुकवाने का प्रयास किया जा रहा है तथा गर्ल्स स्कूल की जमीन पर अनाधिकृत रूप से दावा किया जा रहा है।

भारद्वाज ने बताया कि विद्यालय प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 50 वर्षों से जिस जमीन पर गर्ल्स स्कूल का कब्जा है। उस जमीन पर अचानक कुछ लोगों द्वारा नगर पालिका द्वारा पट्टे जारी करने का दावा करना सुनियोजित षड्यंत्र लगता है।

  • मामले की जांच कराई जा रही है बालिका विद्यालय की एक इंच जमीन को भी डिस्टर्ब नहीं होने दिया जाएगा साथ में भूमि की पैमाइश भी कराई जाएगी, जिसको लेकर विद्यालय प्रशासन द्वारा भी तहसीलदार को भूमि पैमाइश के लिए प्रार्थना पत्र दिया गया है। - राधेश्याम मीणा, एसडीएम
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें