पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कैंथरी (धौलपुर) के धीरेंद्र ने की थी एसीबी में शिकायत:एएसआई ने ट्रैक्टर-ट्राॅली छोड़ने के लिए मांगे ‌10 हजार, एसीबी ने पकड़ा

धौलपुर/रूपवासएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पांच माह पूर्व दर्ज मुकदमे में बंद ट्रैक्टर-ट्राॅली को छोड़ने व चालक की जमानत भरने की एवज में दस हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी की टीम ने एएसआई विनोद कुमार को रंगे हाथों कमरे से गिरफ्तार कर लिया तथा रिश्वत की राशि बैड से बरामद कर ली।

एएसपी महेश मीणा ने बताया कि परिवादी कैंथरी धौलपुर निवासी धीरेंद्र सिंह पुत्र रामकिशन ठाकुर ने एसीबी कार्यालय भरतपुर में 17 जून को परिवाद पेश किया कि एएसआई विनोद कुमार पुत्र भजनलाल जाटव 5 माह पुराने मुकदमे में ट्रैक्टर ट्रॉली को छोड़ने व चालक की थाने मे ही जमानत लेने की एवज में बीस हजार रुपए मांग कर रहा है।

जिस पर एसीबी की टीम ने मामले का गोपनीय सत्यापन कराया तो एएसआई विनोद कुमार ने परिवादी धीरेंद्र सिंह से 17 जून को ही दस हजार रुपये लेकर शेष काम होने पर 18 जून को देना तय किया। परिवादी ने शुक्रवार को थाने आकर एएसआई के कमरे से रिश्वत की शेष राशि दस हजार रुपए दिए तो एएसआई ने उक्त राशि गिन कर बैड पर बिछ रही बैडशीट के नीचे रख ली।

एसीबी टीम के सदस्य उपाधीक्षक परमेश्वर लाल, हैडकांस्टेबल रीतराम, रीडर हरभानसिंह ने थाना परिसर में आकर विनोद कुमार के कमरे को घेरकर रिश्वत की राशि बरामद कर आरोपी एएसआई विनोद कुमार को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल एसीबी की टीम एएसआई को पूछताछ के लिए गिरफ्तार करके भरतपुर ले गई।

खबरें और भी हैं...