भरतपुर और धौलपुर में रार / महिला लैब टेक्निशियन की रिपोर्ट पर गफलत, पॉजिटिव बताने के बाद पेंडिंग बताया, फिर कहा कोरोना संक्रमित

Confused on the report of the female lab technician, after saying it was positive and told the pending, then said corona infected
X
Confused on the report of the female lab technician, after saying it was positive and told the pending, then said corona infected

  • मेडिकल काॅलेज की इंचार्ज बोलीं सीएमएचओ के कहने पर सैंपल दोबारा चेक कराया

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 06:05 AM IST

धौलपुर. जिले में शुक्रवार सुबह स्वास्थ्य विभाग में उस समय हड़कंप मच गया, जब भरतपुर से आई रिपोर्ट में बाड़ी अस्पताल की संविदा महिला लैब टेक्निशियन को कोरोना पाॅजिटिव बता दिया गया। भरतपुर से मिली रिपोर्ट में महिला लैब टेक्निशियन के कोरोना पाॅजिटिव आने के बाद उन्हें जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया।

वहीं संविदा महिला लैब टेक्निशियन के परिवारीजनों के भी सैंपल लेने के साथ घर व आसपास सेनेटाइज किया गया। सीएमएचओ डाॅ. गोपाल गोयल ने बताया कि शाम को भरतपुर से आई मेल ने करेक्शन बताते हुए संविदा महिला लैब टेक्निशियन की जांच रिपोर्ट को पेंडिंग बता दिया। बता दें कि यह तीसरी बार गलती हुई है।

इससे पहले भी दो बार भरतपुर से दूसरे स्थानों के दो मरीजों के नाम गलती से धौलपुर लिस्ट में जोड़ा जा चुका है। बाड़ी अस्पताल के पीएमओ डॉ. शिवदयाल मंगल ने बताया कि भरतपुर से आई रिपोर्ट के बाद संविदा पर लगी महिला लैब टेक्निशियन को बाड़ी अस्पताल में ही तीसरे वार्ड में अलग रखा गया है। हालांकि शाम को संविदा पर लगी महिला लैब टेक्निशियन की जांच रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव आने के बाद उसका इलाज शुरू कर दिया गया।
बाड़ी अस्पताल के तीसरे आइसोलेशन वार्ड में संविदा पर लगी महिला लैब टेक्निशियन मुवीना खान को जैसे ही पीएमओ डाॅ.शिवदयाल मंगल ने बताया कि उनकी रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है तो उन्हें पहले विश्वास ही नहीं हुआ।

इसके बाद संविदा महिला लैब टेक्निशियन की आंखे आंसुओं से भर आईं। पीएमओ डाॅ.शिवदयाल मंगल ने बताया कि शाम को रिपोर्ट पेंडिंग की सूचना मिलने के बाद जब उन्हें बताया तब जाकर संविदा महिला लैब टेक्निशियन के चेहरे पर खुशी आई।

चंदूपुरा गांव में जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर से आया प्रवासी मजदूर निकला पॉजिटिव
बसई नवाब| ग्राम पंचायत बसई नवाब के गांव चंदू पुरा में गत दिवस 23 मई को जम्मू कश्मीर के श्रीनगर से 4 प्रवासी मजदूर किराए पर कैंटरा गाड़ी में बैठ कर आए थे। बताया जाता है कि उक्त चार लोगों के साथ पेंड्रा गाड़ी में 41 प्रवासी मजदूर यूपी के कस्बा खेरागढ़ क्षेत्र के गांव पलटू का नगला के भी बताए गए हैं। जो कि सभी लोग खेरागढ़ बसई नवाब के मध्य सीमा पर उतर गए जहां से सभी लोग पैदल ही अपने अपने गांव पहुंचे।

चंदूपुरा के चारों प्रवासी मजदूरो ने 25 मई को बसई नवाब के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचकर जांच के लिए सैंपल कराएं। जहां शुक्रवार को देर शाम कन्हैया पुत्र अमर सिंह कुशवाह निवासी चंदूपुरा थाना कोलारी को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

वही 3 लोगों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। बसई नवाब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा प्रभारी डॉ रामनरेश ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव युवक कन्हैया को आइसोलेट किया जाएगा। बताया जाता है कि प्रवासी मजदूर जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में पत्थर मार्बल का काम करता था।

संविदा कर्मी की आर्थिक स्थिति कमजोर, एक कमरे में रहता है परिवार
बाड़ी अस्पताल के पीएमओ डाॅ. शिवदयाल मंगल ने बताया कि संविदा महिला लैब टेक्निशियन की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है। एेसे में वह अपने परिवार के साथ एक ही कमरे में रहती है। भरतपुर सेेेेे सुबह गलत आई रिपोर्ट के बाद उसके चार बच्चों सहित पति के सैंपल लेकर क्वारेंटाइन कर दिया गया। साथ में अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में तैनात सभी नर्सिंग स्टाफ एवं चिकित्सकों को सैंपल देने के लिए निर्देश दिए गए थे। 

सीधी बात शालिनी गुप्ता, मेडिकल इंचार्ज, भरतपुर

धौलपुर की लिस्ट में गड़बड़ी के बारे में मुझे जानकारी नहीं है, मैं अभी आई हूं : शालिनी

सवाल : महिला लैब टेक्निशियन की जांच रिपोर्ट सुबह पाॅजिटिव, शाम को पेडिंग बताया, ऐसा क्यों हुआ
जवाब : महिला लैब टेक्निशियन की रिपोर्ट पाॅजिटिव है। धौलपुर सीएमएचओ ने निवेदन किया है कि इसकी जांच दोबारा करवा लें, क्योंकि एेसा हुआ तो बहुत स्टाफ व अन्य को परेशानी होगी। रिपोर्ट रीचेक के बाद रात तक पहुंच जाएगी। पाॅजिटिव निगेटिव नहीं होगा।
सवाल : इससे पहले भी दो बार अन्य जगहों के मरीजों को धौलपुर की लिस्ट में जोड़ा गया। बार-बार ऐसी गलती क्यों
जवाब : मुझे पता नहीं है। यह भरतपुर की लैब से नहीं हुआ है। 
सवाल : धौलपुर की 700 से अधिक जांच रिपोर्ट पेडिंग हैं। समय पर क्यों नहीं दी जा रही हैं।
जवाब : धौलपुर पता नहीं कहां से 700 पेडिंग गिना रहा है। 324 सैंपल उन्होंने जयपुर भेजे हैं, जो हमारे पास नहीं हैं। कई सैंपल उन्होंने भरतपुर भेजे नहीं और रिपोर्ट मांग रहे हैं।
सवाल : समय पर रिपोर्ट नहीं आने से धौलपुर में मरीजों को कई दिन परेशान होना पड़ रहा है।
जवाब : धौलपुर में जो भी रिपोर्ट देख रहा है वो समयानुसार नहीं देख रहा है। 
सवाल : इन सब का जिम्मेदार किसे मानें
जवाब : हम मानते हैं कि हमारी नई लैब है। जयपुर जैसा हम नहीं कर पा रहे हैं। धौलपुर में जो भी रिपोर्ट देख रहा है, वह ठीक से मैनेज नहीं कर रहा है। धौलपुर में बीच वाले लोग सैंपल भेजने और रिपोर्ट भेजने में गलती कर रहे हैं और गलती भरतपुर लैब की बता देते हैं। वहां पर कोई देख ही नहीं रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना