मांग:बीमार एवं 55 वर्ष से अधिक उम्र के शिक्षकों को ड्यूटी से मुक्त रखने की मांग

धौलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान शिक्षक संघ सियाराम की ओर से गुरुवार को कलेक्टर को ज्ञापन देकर गंभीर बीमारी से पीडि़त एवं 55 वर्ष से अधिक उम्र के शिक्षकों को ड्यूटी से मुक्त रखने की मांग की है। संघ के जिलाध्यक्ष महेश त्यागी ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम में शिक्षक समुदाय भी प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खडा़ है।

उन्होंने कहा कि कोविड -19 से सम्बधित विभिन्न कार्यों में लगाई जा रही शिक्षकों की ड्यूटीज में जो शिक्षक वैक्सीनेशन वैरीफायर के रूप में लगातार ड्यूटी दे रहे हैं उन्हें ड्यूटी से मुक्त कर अन्य कार्मिक लगाए जाएं। वहीं गंभीर बीमारी से पीडि़त एव 55 वर्ष से अधिक उम्र एवं जिन शिक्षकों के परिवारीजन कोरोना संक्रमित हैं उन्हें ड्यूटी से मुक्त रखा जाए।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 में ड्यूटी दे रहे शिक्षकों को N-95 मास्क,सैनेटाइजर,उच्च क्वालिटी के ग्लव्ज आदि सामग्री जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जाए, जिससे शिक्षकों कोरोना से संक्रमित होने से बचाया जा सके।

खबरें और भी हैं...