• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • Dholpur
  • Did Not Panic Even When The Oxygen Level Was 85 Percent; Admitted To ICU For 7 Days, Took Care Of Positive Wife And Children Too, Won Corona's Battle With Strong Will

जन संकल्प से हारेगा कोरोना:ऑक्सीजन लेवल 85 प्रतिशत होने पर भी नहीं घबराया; 7 दिन आईसीयू में भर्ती रहा, पॉजिटिव पत्नी और बच्चों को भी संभाला, दृढ़ इच्छाशक्ति से जीती कोरोना की जंग

धौलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गंभीर कोरोना संक्रमण होने के बावजूद अपनी इच्छाशक्ति से कोरोना को हराने वालों की कहानियां, पढ़िए आज पहली कड़ी- डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ मुझे लगातार मोटिवेट करते रहे, मैंने खुद पर नेगेटिविटी कभी हावी नहीं होने दी

10 दिन पहले तेज बुखार होने पर जब सीटी स्कैन जांच कराई तो कोरोना के लक्षण आए। ऑक्सीजन लेवल भी 85 प्रतिशत हो गया, पर मैं घबराया नहीं। गंभीर कोरोना संक्रमण होने के बावजूद ठान लिया कि कोरोना को हराना है और दृढ़ इच्छाशक्ति से कोरोना को हराया। यह कहना है राजाखेड़ा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत विनतीपुरा सरपंच राजेश सिकरवार का। हाल ही में कोरोना को मात देने वाले राजेश सिकरवार ने कहा कि लगातार ग्राम पंचायत में लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए सुबह से ही घर से निकलना और उनकी समस्याओं का समाधान कराना होता है।

इसी बीच उन्होंने कोरोना वैक्सीन भी लगवाई। उसके बाद उन्हें हल्का वायरल हुआ। इस बीच सीटी स्कैन कराया तो कोरोना के लक्षण आए। इस पर सोच लिया कि हौसला नहीं छोडूंगा और कोरोना को मात देनी है। हालत ज्यादा खराब होने लगी और ऑक्सीजन लेवल कम होने पर सांस लेने में भी दिक्कत होने लगी। इसके बाद जिला अस्पताल में भर्ती हुआ। इस बीच पत्नी और बच्चे भी कोरोना पॉजिटिव हो गए। उसके बाद भी मैने खुद के साथ ही हॉस्पिटल में रहते हुए परिवार के सदस्यों का हौसला नही टूटने दिया। उन्हें भी फोन पर मोटीवेट करता रहा।

इस दौरान डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ भी मुझे लगातार मोटिवेट करते रहे। मैंने खुद पर नेगेटिविटी हावी नहीं होने दी। फोन पर परिजनों और मित्रों से बात करता तो सभी मुझे हिम्मत देते और बोलते चिंता नहीं करनी है सब कुछ जल्दी ठीक हो जाएगा। मैं भी घबराया नहीं बल्कि यह ठान लिया था कि कोरोना से जिंदगी नहीं हारूंगा। 7 दिन आईसीयू में रहा, रिपोर्ट नेगेटिव आई और स्थिति में सुधार हुआ तो डॉक्टर्स ने आइसोलेशन में शिफ्ट कर दिया और अब डिस्चार्ज होने के बाद मैं पूरी तरह से स्वस्थ हूं। पहले की तरह सभी कार्य घर में कर रहा हूं।

संदेश- लापरवाही नहीं बरतें, संक्रमित हों तो भी आत्मविश्वास रखें, डॉक्टर से भी सलाह लें

कोरोना से बचने के लिए मेरा यही संदेश है कि लापरवाही ना बरतें, संक्रमित हो भी जाएं तो आत्मविश्वास ना खोएं। इस बीमारी से लड़ने के लिए सबसे जरूरी है कि हौसला रखें। मास्क पहनें और कोविड प्रोटोकॉल की पालना करें। उनका कहना था कि जो लोग हौसला छोड़ देते हैं और नियमों की पालना नहीं करते उनके लिए यह बेहद खतरनाक है। हम सबको नियमों का पालन कर संकट के इस दौर में जीत हासिल करनी है।

एक्सपर्ट व्यू- तनाव से घटता है ऑक्सीजन लेवल

पीएमओ डॉ समरवीर सिंह का कहना है कि ऑक्सीजन लेवल घटने का बड़ा कारण भय और तनाव से उत्पन्न घबराहट भी है। इसलिए, पॉजिटिव होने पर मन में डर को हावी नहीं होने दें। स्टीम/भाप लेना इसमें बहुत कारगर है। ऐसे में योगा करना भी कारगर साबित होता है। अनलोम-विलोम, कपालभांति करें और पौष्टिक आहार लें।

खबरें और भी हैं...