पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:अक्टूबर में रैंकिंग नहीं सुधरी तो होगी संस्था प्रधान पर कार्रवाई : सीबीईओ

धौलपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिक्षा अधिकारी निष्ठा पूर्वक निभाएं जिम्मेदारी : एसडीएम

शिक्षा विभाग की ब्लॉक निष्पादन समिति की बैठक बुधवार को उपखण्ड अधिकारी धीरेंद्र सिंह की अध्यक्षता में राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय धौलपुर में हुई। बैठक में शिक्षा में रैंकिंग पैरामीटर्स के 44 बिंदुओं पर बिंदुवार विस्तृत रूप से चर्चा कर समीक्षा की। इस अवसर पर एसडीएम ने सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न प्रकार की योजनाओं का सही समय पर लाभ बच्चों तक पहुंच सके इसके लिए प्रभावी

मोनिटरिंग करने के सभी शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए। जिससे विद्यार्थियों को लाभ मिल सके। उन्होने कहा कि भारतीय संस्कृति में शिक्षक को सर्वाेपरि और सामाजिक परिवर्तन का अग्रदूत माना जाता रहा है। इस गरिमा को बनाए रखने के लिए शिक्षकों को दायित्व का निर्वहन पूरी निष्ठा से करना होगा। उन्होंने चुनाव के मद्देनजर बिना किसी महत्वपूर्ण कार्य के अवकाश नहीं लेने और भामाशाहों के माध्यम से स्कूलों में भौतिक संसाधनों के सुधार और संवर्धन के निर्देश दिए। सभी संस्था प्रधान विद्यालयों में खेल मैदान की स्वयं मॉनिटरिंग कर देखभाल करना सुनिश्चित करें तथा किसी के द्वारा कब्जा किए जाने की तुरंत प्रभाव से संबधित के

खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने की कार्यवाही कर तहसीलदार एवं उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में सूचना भिजवाया जाना सुनिश्चित करें। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सियाराम मीना ने क्रियान्वित योजनाओं पर के बारे में जानकारी देते हुए निर्देशित किया कि रैंकिंग पैरामीटर्स के अनुसार विद्यालयों में नामांकन सुधार, उजियारी पंचायत प्रस्ताव,आधार फीडिंग लीकेज का कार्य क्रियान्वयन, विद्युत कनेक्शन, पेयजल, शौचालयों की व्यवस्था, कक्षा कक्ष खेल मैदान,अविकसित खेल मैदान, चार दीवारी तथा मरम्मतीकरण का कार्य, इंसीनरेटर, डिस्पेंसर, क्रियाशील इंटरनेट, बोर्ड परीक्षा परिणाम, ज्ञान संकल्प डोनेशन, एसएमसी रजिस्ट्रेशन कार्य, विद्यालय का पैनकार्ड, 80 जी रजिस्ट्रेशन,नीलामी प्रक्रिया तथा अन्य बिंदुओं की क्रियान्विति सही समय पर हो इसके लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कलेक्टर के निर्देशन में समस्त पीईईओ अपने अधीनस्थ समस्त

विद्यालयों में योजनाओं का क्रियान्वयन करें और रैंकिंग सुधार में अपने विद्यालयों की प्रभावी मॉनिटरिंग करें अन्यथा किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने पर कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। एडीपीसी मुकेश गर्ग ने कहा कि यदि किसी भी विद्यालय में बिजली,पानी आदि की व्यवस्था नहीं है या खेल मैदान की उपलब्धता नहीं है तो प्रस्ताव बनाकर भेजें ताकि विद्यालय में आवश्यक संसाधनों की समय पर मांग को पूरा किया जा सके। मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी दामोदर लाल मीना ने स्कूलों में उत्तम शैक्षिक वातावरण बनाने के लिए समय का पाबंद होने व नवाचार अपनाने और इंस्पायर अवार्ड योजनाओं सहित अन्य महत्वपूर्ण नवाचारी

गतिविधियों को अपनाने पर जोर देने की बात कही। उन्होंने कहा कि विभाग की ओर से दी गई जिम्मेदारियों को समय पर पूरा किया जाने को प्राथमिकता दी जाए ताकि शिक्षा के नवाचारों और संसाधनों की उपलब्धता प्रत्येक विद्यालय में सुलभ हो सके। अतिरिक्त ब्लॉक शिक्षा अधिकारी नरेश जैन ने बोर्ड परीक्षा परिणाम उन्नयन तथा ज्ञान संकल्प डोनेशन पर प्रत्येक विद्यालय की भागीदारी आवश्यक है। ज्ञान संकल्प डोनेशन के लिए पीईईओ अपने क्षेत्रा के ग्रामीणों तथा अन्य लोगों को प्रेरित करें ताकि विद्यार्थियों के हित में महत्वपूर्ण कई अन्य आवश्यकताओं और संसाधनों की मांग को पूरा किया जा सके।

खबरें और भी हैं...