पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • Dholpur
  • In Bari, The Government Girls' School Has Been Running On Donated Land For 50 Years, The Court Notice Was Given After Breaking The Old Two Chambers And Laying The Foundation For The New Building.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बालिकाएं आज स्कूल के सामने देंगी धरना और करेंगी प्रदर्शन:बाड़ी में 50 साल से दान की जमीन पर चल रहा है सरकारी बालिका स्कूल पुराने दो कक्ष तोड़कर नए बनाने की नींव रखते ही मिला कोर्ट नोटिस

बाड़ी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़ी. स्कूल के बाहर आक्रोश व्यक्त करता स्कूल स्टाफ। - Dainik Bhaskar
बाड़ी. स्कूल के बाहर आक्रोश व्यक्त करता स्कूल स्टाफ।

राजस्थान में सर्वाधिक छात्र संख्या वाले विद्यालयों में शुमार कस्बे में दान की गई जमीन पर संचालित 50 साल पुराने बालिका विद्यालय को अब अपना मालिकाना हक बताने के लिए मंगलवार को कोर्ट में संबंधित दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगी। कारण है कि पिछले दिनों इस स्कूल में पुराने कक्षा कक्ष को तोड़कर नया बनवाने का कार्य शुरू होते ही एक व्यक्ति ने अपना हक जताते हुए न्यायालय के माध्यम से इस कार्य को रुकवा दिया है।

बसेड़ी रोड पर गुलाब बगीची को जाने वाले रोड पर स्थित बालिका विद्यालय में दो पुराने कक्षा कक्षों का निर्माण कार्य समसा के द्वारा कराया जा रहा है। इस कार्य के लिए पुराने कक्षा कक्षों को तोड़ गया और नए कक्षा कक्ष के लिए नींव रखी गई। इस बीच रविवार को निर्माण कार्य रोक दिया गया। वहीं सिविल कोर्ट बाड़ी से सोमवार को एक नोटिस स्कूल प्रबंधन को मिला, जिसमें लिखा है कि स्कूल प्रबंधन मय दस्तावेजों के मंगलवार को सुबह दस बजे कोर्ट में पेश हो। विद्यालय प्रशासन ने मदद के लिए स्थानीय विधायक और कस्बे वासियों से गुहार लगाई है।

स्कूल प्रशासन के ठाकुर दास बंसल ने बताया कि समसा के द्वारा दो कक्षा कक्षों का निर्माण किया जा रहा है। पुराने कक्षों को तोड़कर इसकी नींव भराई का कार्य चल रहा था, लेकिन रविवार को काम बंद कर दिया गया। जब संबंधित जेईएन और अन्य अधिकारियों से फोन पर बात की तो उन्होंने बताया कि सिविल कोर्ट बाड़ी में रामभरोसी पुत्र भोंदूराम वैश्य निवासी अग्रसेन विहार कॉलोनी ने इस जमीन पर अपना हक जताया है, जिससे उक्त भूमि के विवादित होने पर पर कोर्ट ने निर्माण कार्य बंद कराने के साथ-साथ स्कूल प्रबंधन को मंगलवार को कोर्ट में मय दस्तावेज के उपस्थित होने के आदेश जारी किए हैं। इस मामले में स्कूल प्रिंसिपल शशि कुमारी और अन्य स्टाफ में आक्रोश है।

1971 में स्कूल के लिए दान में मिली थी जमीन
नपा के पूर्व चेयरमैन भगवान स्वरूप भारद्वाज ने सन‌् 1971 में स्कूल के लिए भूमि दान की थी। उनके पुत्र और स्कूल विकास समिति से जुड़े एवं वार्ड पार्षद राजकुमार भारद्वाज का कहना है कि करीब 50 साल पहले स्कूल बना और तब से वहीं पर संचालित हो रहा है। अब तक इस जमीन पर किसी का विवाद नहीं था। लेकिन जब पुराने पुस्तकालय की जर्जर इमारत को गिराकर समसा के द्वारा नए कक्षा-कक्ष बनाने का काम शुरू किया तो काम रुकवाया जा रहा है।

उन्होंने काम रोके जाने पर आक्रोश है। इधर, बालिका में नए कक्षों का निर्माण कार्य रुकवाने से स्कूल स्टाफ सहित यहां पर पढ़ने वाली बालिकाओं में भी खासा आक्रोश है। बालिकाओं का कहना है कि नए कक्षा कक्ष बनने से बालिकाओं को पढ़ाई में सुविधा मिलती, लेकिन कुछ लोगों को यह बर्दाश्त नहीं हो रहा। बालिकाओं का कहना है कि वे इसके विरोध में मंगलवार को स्कूल के सामने धरना प्रदर्शन करेंगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें