मौसम का मिजाज:धौलपुर-भरतपुर में आज 40 से 50 किमी की स्पीड से आ सकता है अंधड़

धौलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धौलपुर, गर्मी के तेवर तीखे होने के कारण नेशनल हाईवे पर सन्नाटा - Dainik Bhaskar
धौलपुर, गर्मी के तेवर तीखे होने के कारण नेशनल हाईवे पर सन्नाटा

मौसम के तेवर एक बार फिर बिगड़ने लगे है। तेज गर्मी और सूरज की तपिश के कारण दिन में चलने वाली हवाएं पूरी तरह गर्म होने से लू का एहसास होने लगा। बुधवार को को गर्मी का आलम यह था कि पारा अधिकतम 42 डिग्री पर और न्यूनतम 27 डिग्री पर जा पहुंचा।

लू के थपेड़ों के कारण अप्रैल के अंत में ही मई-जून की सी गर्मी का एहसास होने लगा। मार्च के अंतिम सप्ताह में इसी तरह पारा एकाएक बढ़ गया और तापमान 42 डिग्री पर जा पहुंचा था लेकिन इसके 2-3 दिन बाद बादलों के छाए रहने से तापमान में गिरावट आ गई साथ ही गर्मी से भी काफी हद तक राहत मिलने लगी थी। इसके बाद एक बार फिर 2-3 दिन से मौसम बदल गया। पिछले 2-3 दिनों से सूरज की तेज किरणों औरतपिश से तापमान में बढ़ोत्तरी होने लगी है।

बुधवार को तो गर्मी पूरे चरम पर पहुंच गई। वैसे भी कोरोना वैश्विक महामारी के चलते इन दिनों और लॉकडाउन लगा हुआ है, ऐसे में सरकार के द्वारा अनुमत दुकानें केवल सुबह 6 से 11 बजे तक ही खुल रही है, बुधवार को भी 11 बजे के बाद पूरे बाजार बंद हो गए। वही सड़कों पर भी दिन में सन्नाटा छाया रहा। गर्मी के कारण हाईवे पर भी दिन में इक्का दुक्का वाहन ही निकलते देखे गए। पिछले एक सप्ताह से तापमान में धीरे-धीरे बढ़ोत्तरी हो रही है।

हालांकि लॉकडाउन के कारण लोग घरों में ही है लेकिन गर्मी के कारण हाल-बेहाल है। गर्मी बढ़ने के साथ ही बिजली की खपत भी बढ़ गई है। वहीं प्रशासन को भी गर्मी के मौसम में भीड़ के बाहर नहीं आने से राहत मिली है।गर्मी का असर बढ़ने के साथ ही लोगों ने घरों में रखे कुलर, पंखों को बाहर निकाल इन्हें चालू कर लिया। जिनके उपकरण चालू हालत में है, वे तो गर्मी में इनका उपयोग कर गर्मी से न केवल बच रहे है बल्कि गर्मी में घरों में रहकर कुलिंग का आनंद ले रहे है लेकिन जिनके उपकरण खराब है, वे लॉकडाउन के कारण खराब उपकरणों की मरम्मत नहीं करवा पा रहे और गर्मी की पीड़ा झेल रहे हैं।

मौसम विभाग का यलो अलर्ट... दो दिन बना रहेगा आंधी और बरसात का दौर

मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी कर लोगों से अहतियात बरतने को कहा है। साथ ही राजस्थान के लगभग एक दर्जन जिलों में आंधी बरसात की संभावना भी व्यक्त किया है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से गुजराती गर्म हवाएं फिर प्रभावी हो गई हैं। पश्चिम-दक्षिण राजस्थान में चक्रवात बन गया हैं। इसका गुरुवार को जोरदार असर देखने को मिल सकता है। इसलिए, मौैसम विभाग ने भरतपुर सहित 17 जिलों को यलो अलर्ट मोड पर रखा है। क्योंकि गुरुवार को 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। इसलिए तेज अंधड़ से लोग सावधान रहें। सामान को सुरक्षित रखें।

मौसम विशेषज्ञ आरके सिंह का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ के बुधवार को सक्रिय होने से मौसम में बदलाव आ रहे हैं। इसका असर बुधवार से ही दिखने लगा। इस दिन भी धूलभरी आंधी चली। विभाग के अनुसार गुरुवार को भरतपुर सहित धाैलपुर, कराैली, सवाई माधाेपुर, काेटा, दाैसा, जयपुर, अजमेर, बूंदी में अंधड़ की संभावना है।

खबरें और भी हैं...