वर्कशॉप का आयोजन:भेदभाव खत्म करने के लिए हुई कार्यशाला में सभी को समानता के साथ जीवन जीने का आह्वान

धाैलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुधवार को समानता का सम्मान महिला एवं बाल विकास विभाग राजस्थान सरकार एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण धौलपुर के संयुक्त तत्वाधान में पोषण सप्ताह के अंतर्गत एक दिवसीय नारी सशक्तिकरण एवं लैंगिक समानता का वर्कशॉप का आयोजन हुआ। वर्कशॉप में मुख्य अतिथि के रूप में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव मीना अवस्थी, इंडियन रेलवे इंजीनियरिंग सर्विस के अंकित गुप्ता, विशिष्ट अतिथि के रूप में मिट्ठन लाल शर्मा आयुर्वेद पीएमओ एवं युवा नेता और पार्षद राम शर्मा एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कृष्ण मोहन गोयल ने अध्यक्षता की।

लैंगिक समानता एवं नारी सशक्तिकरण के लिए यह पूरे देश में एक अलख जगाई जा रही है। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि मीना अवस्थी ने अपने व्याख्यान में महिलाओं को संबोधित करते हुए उचित न्याय की सहायता के लिए नए आयाम बताए और महिलाओं को भय मुक्त जीवन जीने की कई उपयोगिता बताई। अंकित गुप्ता ने महिलाओं के अतुलनीय योगदान एवं समाज में भिन्न लिंगों की उपयोगिता के बारे में प्रकाश डाला। पीएमओ मिट्ठन लाल शर्मा ने महिलाओं की स्वास्थ्य सुरक्षा एवं स्वच्छता पर जोर दिया।

उसके साथ साथ कार्यक्रम में युवा नेता एवं समाजसेवी राम शर्मा ने कार्यक्रम में महिलाओं की उपयोगिता का अपने जीवन में क्या उपयोग है इस विषय में अपनी बातें कहीं एवं अंत में कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि कृष्ण मोहन गोयल ने महिलाओं को अध्यात्म में एवं धर्म में स्थान में अग्रणी होने की बात को उजागर किया। कार्यक्रम में देविका उर्फ देवेंद्र मंगलामुखी के संयोजन में आयाेजन हुआ।

देविका ने लैंगिक भेदभाव को खत्म करने के लिए अपने विचार रखे और कहां व्यक्ति का कोई भी लिंग हो सभी लोग समान हैं और सभी को समानता के साथ अपना जीवन जीना चाहिए एवं कार्यक्रम में महिला बाल विकास के भूपेश गर्ग ने विशेष आभार प्रकट एवं धन्यवाद कर कार्यक्रम को सफलता हेतु कामना की। इस माैके पर नरगिस बानो, मांगीलाल एवं समानता के सम्मान की अध्यक्षा देविका और तिलक सिंह, अंजू अग्रवाल, मुन्ना खान, निशांत आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...