पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मौसम:रात में इस सीजन का सबसे अधिक पाला पड़ा, रबी की फसल को नुकसान

धौलपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुबह 11 बजे तक खेतों और झाड़ियों में पाले का असर दिखा, आम जनजीवन भी हुआ अस्त-व्यस्त

जिले में बुधवार को न्यूनतम तापमान 5 डिग्री के साथ पारा जमाव बिंदु की तरफ पहुंच गया। बुधवार को इस सीजन का सबसे अधिक पाला भारी तादात में पड़ा है। कड़ाके की सर्दी एवं पाले ने आमजन की दिनचर्या को भारी प्रभावित किया। रात को पड़े पाले ने रवि फसल को भी भारी नुकसान पहुंचाया है। रवि की प्रमुख फसल सरसों एवं आलू फसल में नुकसान देखा जा रहा है। हालांकि पूर्व में ही रवि की फसल पाले की चपेट में आ चुकी है।

जिससे जिले का काश्तकार भारी परेशानी के दौर से गुजर रहा है। बुधवार को पड़े पाले ने आमजन के साथ फसल को भी भारी प्रभावित किया है। बीती रात पड़े पाले से तापमान में भारी गिरावट देखी गई। मौसम का पारा जमाव बिंदु की तरफ देखा गया। सुबह ग्यारह बजे तक खेतों एवं झाड़ियों पर पाले का असर देखा गया।

कड़ाके की सर्दी एवं पाले ने आमजन की दिनचर्या भी प्रभावित कर दी। आमजन के साथ पशु-पक्षी एवं वन्यजीवों की भी दिनचर्या कड़ाके की सर्दी से प्रभावित हुई है। वही पाले ने रवि फसल को भारी नुकसान पहुंचाया है। हालांकि पूर्व में ही आलू एवं सरसों की फसल रोग की चपेट में आ चुकी थी। आलू फसल को झुलसा रोग ने चपेट लिया है,तो वहीं सरसों फसल में तना गलन एवं सफेद रोली रोग ने दस्तक दी है। जिससे किसानों की चिंता और अधिक बढ़ती जा रही हैं।

बदले मौसम ने रबी की फसल का गणित बिगाड़ा
पिछले करीब 15 दिनों से मौसम का मिजाज जिले में गड़बड़ चल रहा है। मौसम के मिजाज में रवि फसल का गणित पूरी तरह से बिगाड़ दिया है। हालांकि गेहूं एवं मटर फसल में मौसम अनुकूल माना जा रहा है। लेकिन सरसों,आलू एवं सब्जियों की फसलों में मौसम में भारी नुकसान पहुंचाया है। बुधवार को न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 24 डिग्री सेल्सियस रहा हैं।

मकर संक्रांति के बाद और बढ़ेगी सर्दी, मटर और गेहूं की फसल के लिए अनुकूल

सैंपऊ| जिले में फिर एक बार पारा जमाव बिंदु की तरफ पहुंच गया है। सर्दी कम होने का नाम नहीं ले रही। बुधवार को सीजन का सबसे ज्यादा पाला पड़ने से रबी की फसल को नुकसान पहुंचा है। रात्रि को पड़े पाले से सरसों एवं आलू की फसल में नुकसान हो रहा है। मंगलवार रात्रि इस सीजन की सबसे ज्यादा सर्द रात रही। खेतों पर सफेद बर्फ की चादर जम गई। सुबह 10 बजे तक खेतों एवं झाड़ियों पर पाले का असर देखा गया।

कड़ाके की सर्दी एवं पाले ने आमजन की दिनचर्या भी प्रभावित कर दी। आमजन के साथ पशु पक्षियों की भी दिनचर्या प्रभावित हुई है। पाले आलू एवं सरसों की फसल में नुकसान हो रहा है वहीं गेहूं एवं मटर फसल के लिए मौसम अनुकूल माना जा रहा है। मौसम विभाग के अनुसार मकर संक्रांति तक लगभग मौसम की स्थिति खराब रहेगी। आगे आने वाले कुछ दिनों में सर्दी और बढ़ने के आसार हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser