पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना का कहर:मां और बच्चों की जिंदगी बची रहे इसलिए बेटे ने नहीं लिया कोरोना संक्रमित पिता का शव

धौलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धौलपुर, शव का अंतिम संस्कार करते नगरपरिषद के कर्मी। - Dainik Bhaskar
धौलपुर, शव का अंतिम संस्कार करते नगरपरिषद के कर्मी।
  • जिले में 105 नए रोगी मिले, एक्टिव केसों का आंकड़ा 2000 पार, अब तक 35 मौत

दूसरी लहर में कहर बन कर टूट रहे कोरोना की वजह से होने वाली मौतें दिलो-दिमाग को झकझोर रही हैं। इंसान की मजबूरी देखिए कि शुक्रवार के एक बेटे ने कोरोना संक्रमित पिता का शव इसलिए नहीं लिया क्योंकि उसकी पत्नी पहले ही पॉजिटिव है। फिर मां और मासूम बच्चों की जिंदगी का भी सवाल था। इसलिए नगर परिषद कर्मियों ने पूरे प्रोटोकॉल के साथ पिता का अंतिम संस्कार किया।

श्मशान में दूर खड़े होकर पिता को पंचतत्व में विलीन होते देख बेटे के मुंह से बस यही शब्द निकले कि “पिताजी मुझे माफ करना। मैं ऐसा बदनसीब हैं जो आपको न तो कंधा दे पाया और न ही मुखाग्नि। शुक्रवार को जिले में फिर 105 नए कोरोना रोगी मिले। यहां एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर अब 2013 हो गई है। चिंता की बात इसलिए है कि सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक ही जिले में अब तक 35 लोग कोरोना से जान गंवा चुके हैं।

अब तक जिले में 7320 लोग ठीक होकर घर पहुंचे
हालांकि राहत की बात यह है कि शुक्रवार को लंबे समय बाद नए रोगियों की तुलना लगभग दोगुने यानि 288 लोग ठीक होने के बाद अपने घर पहुंच गए। जिले में अब तक 7320 लोग कोरोना को हरा चुके हैं। जिला प्रशासन का दावा है कि इन दिनों सैंपलिंग बढ़ाई गई है। अब तक जिले में 1 लाख 63 हजार 140 लोगों के सैंपलों की जांच की जा चुकी है। इनमें 9368 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

सैंपऊ पीएनबी का क्लर्क पॉजिटिव
सैंपऊ स्थित पंजाब नेशनल बैंक का एक क्लर्क भी शुक्रवार को संक्रमित निकला। वह पिछले 8 दिन से बैंक में नियमित कार्य कर रहा था। उसने 30 अप्रैल को कोविड टेस्ट कराया था। बैंक कर्मी के संक्रमित निकलने से उसके संपर्क में आए ग्राहकों में हड़कंप मच गया क्योंकि इस संक्रमित क्लर्क ने शुक्रवार को दिनभर कैश काउंटर पर काम किया और कई लोगों से लेन-देन हुआ था। इससे पहले तसीमों की एसबीआई बैंक का रिकवरी एजेंट और बैंक मैनेजर की कोरोना से मौत हो चुकी है।

डीएम ने किया फ्लैग मार्च, देखी व्यवस्थाएं
रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़े के अन्तर्गत जिला प्रशासन द्वारा बेवजह घूमने वाले लोगों को पकड़ने हेतु धरपकड़ अभियान चलाया जा रहा है। जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने शहर का दौरा किया। उन्होंने सिटी जुबली हॉल से हरदेव नगर होते हुए जगन चौराहा, लाल बाजार, हलवाई खाना, गांधी पार्क, सब्जी मण्डी, सन्तर रोड़, धूलकोट रोड़ होते हुए जिला कलेक्ट्रेट तक फ्लैग मार्च किया। फ्लैग मार्च के दौरान बाजार में शांति व्यवस्था मिली।

उन्होंने शहर में बेवजह घूमने वालों की आवाजाही को रोकने के लिए बैरिकेडिंग को बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने आमजन से अपील की है कि कोविड महामारी के संक्रमण के फैलाव को नियंत्रित करने के लिए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन व प्रोटोकॉल का सख्ती से पालना करें। बेवजह घरों से बाहर ना निकले, मास्क लगाए व आवश्यक दूरी की पालना करें। फ्लैग मार्च के दौरान उपखण्ड अधिकारी भारती भारद्वाज आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...