पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रीट परीक्षा 2021:प्राइवेट संस्थाओं का अनुमोदित स्टाफ ही लगेगा, पेन और पेंसिल लेकर ही आएं अभ्यर्थी

धौलपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आधे घंटे पहले ही मिलेगा प्रवेश, पेपर पर होगा बार कोड, 88 परीक्षा केंद्रों पर 39,355 परीक्षार्थी होंगे शामिल
  • कलेक्टर ने अधिकारियों के साथ बैठक में लिया तैयारियों का जायजा

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 26 सितम्बर को आयोजित होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2021 को लेकर कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल की अध्यक्षता में तैयारियों के संबंध में बैठक का आयोजन जिला कलक्टर चेम्बर में हुआ।

बैठक में जिला कलक्टर ने निर्देश देते हुए कहा कि परीक्षा में प्राइवेट स्टाफ अनुमोदित होने के बाद ही लगाया जाए। उन्होंने बाड़ी, बसेड़ी व राजाखेड़ा में विशेष रूप से व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि परीक्षा कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने पर कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 26 सितम्बर को आयोजित होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2021 में सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किये जायें। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर छः सुरक्षा गार्ड तैनात हों। हर प्रश्नपत्र पर बार कोडिंग भी होगी। परीक्षा केन्द्र निर्धारित समय से एक घंटे पहले खोल दिए जाएंगे।

परीक्षार्थी को आधा घंटे पहले तक ही प्रवेश मिलेगा। आगामी 20 सितंबर से रीट कार्यालय में कंट्रोल रूम शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि रीट परीक्षा में नकल व अनुचित साधनों के प्रयोग को रोकने के लिए प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर दो पुरुष व दो महिला पुलिसकर्मी के साथ दो होमगार्ड के जवान तैनात रहेंगे।

अभ्यर्थी के लिए एक घंटे पहले परीक्षा केन्द्र खोल दिए जाएंगे। आधे घंटे पहले परीक्षा केन्द्र बंद कर दिए जाएंगे। इसके बाद प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसलिए परीक्षार्थी समय पर केन्द्र पर पहुंचे। परीक्षा केन्द्र पर परीक्षार्थी केवल पैन व पैंसिल लेकर आए। इसके अतिरिक्त अनावश्यक सामान लाने से बचें। कोई भी कीमती वस्तु लेकर नहीं आए।

दो पारियों में होंगी परीक्षा, वीडियोग्राफी, जैमर और सीसीटीवी लगाने पर भी हुई चर्चा
जिला कलक्टर ने रीट के संचालन को लेकर प्रश्न-पत्रों की सुरक्षा, संवेदनशील व अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर विशेष सुरक्षा उपाय, परीक्षा केंद्रों पर वीडियोग्राफी, जैमर और सीसीटीवी लगाए जाने पर चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में बताया कि बोर्ड की प्राथमिकता है कि परीक्षा में नकल व अनुचित साधनों के उपयोग पर पूरी तरह अंकुश लगे।

इसके लिए पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल तैनात करने और उड़नदस्तों के गठन को लेकर चर्चा की गई। जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक अरविंद शर्मा ने बताया कि जिले में परीक्षा के लिए 88 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। जिन पर 39 हजार 355 परीक्षार्थी बैठेगें।

प्रथम पारी में 88 केन्द्रों पर 21 हजार 932 परीक्षार्थी बैठेंगे जो सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक लेवल-2 की होगी। द्वितीय पारी में 72 परीक्षा केन्द्रों पर 17 हजार 423 परीक्षार्थी बैठेंगे जो दोपहर 2.30 बजे से सायं 5 बजे तक लेवल-1 की होगी।

20 से शुरू होगा कंट्रोल रूम : परीक्षार्थियों की समस्याओं के त्वरित निवारण के लिए रीट कार्यालय में कंट्रोल रूम 20 सितम्बर से शुरू होगा। जिसका संचालन 27 सितम्बर तक होगा। इसी प्रकार जिला कलक्टर कार्यालय और एसडीएम कार्यालय में भी 25 और 26 सितम्बर को कंट्रोल रूम स्थापित रहेगा।

सुरक्षा के लिए पुलिस जाप्ता भी रहेगा तैनात
प्रश्न पत्रा आउट होने जैसी विकराल समस्या से निपटने के लिए विशेष सुरक्षात्मक उपाय किए गए है। इसके लिए प्रश्न पत्रों पर विशेष बार कोडिंग व सीरियल नम्बर लगाए गए है। राज्य सरकार द्वारा गठित उच्चाधिकार प्राप्त परीक्षा समिति ने निर्णय लिया है कि परीक्षा में लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों को तत्काल निलम्बित किया जाएगा। सुरक्षा के लिए अतिरिक्त जाप्ता भी लगाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...