पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमानवीय कार्य:9 साल की दिव्यांग बेटी को रात में छोड़कर भाग गए मां-बाप

धौलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धौलपुर. बालिका को देखते समिति सदस्य। - Dainik Bhaskar
धौलपुर. बालिका को देखते समिति सदस्य।

एक माता-पिता लगभग 9 वर्षीय दिव्यांग बेटी को रात के समय बंद दुकान के बाहर छोड़कर भाग गए। बेटी न तो बोल सकती है और न ही सुन सकती है। रात के सन्नाटे में बालिका फूट-फूटकर रोने लगी। आसपास के लोगों ने बालिका की रोने की आवाज सुनी तो उन्होंने चाइल्ड हेल्प लाइन को सूचना दी। जिस पर चाइल्ड हेल्प लाइन ने बालिका को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया।

समिति सदस्य गिरीश गुर्जर ने बताया कि बालिका मानसिक और शारीरिक रूप से अत्यंत कमजोर है। जिला अस्पताल से डाॅक्टरों की टीम को बुलाकर उसका परीक्षण करवाया गया। उन्होंने बताया कि समिति बालिका के परिजनों को तलाशने का प्रयास कर रही है।

समिति सदस्य बृजेश मुखरिया ने बताया कि प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि बालिका को परिजनों द्वारा जानबूझकर छोड़ा गया है। इसकी जांच के लिए समिति ने पुलिस को लिखा है। पुलिस कार्रवाई करने के बाद पता चलेगा कि बालिका के प्राकृतिक संरक्षक कौन हैं और इस हालत में क्यों छोड़ा है। उन्होंने बताया कि बालिका के उचित पुनर्वास के लिए समिति जल्द कार्रवाई कर रही है। माता-पिता के खिलाफ एफआईआर करवाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...