पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:बजरी माफियाओं के खिलाफ राजपासा में कार्रवाई करेगी पुलिस, संपति भी जब्त होगी

धौलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बजरी माफियाओं के खिलाफ राजपासा में कार्रवाई करेगी पुलिस, संपति भी जब्त होगी

जिले में अवैध चंबल बजरी परिवहन रोकने के लिए अब पुलिस के चार नाकों पर कार्यपालक मजिस्ट्रेट के साथ टॉस्क फोर्स टीम भी मौजूद रहेगी, जो बजरी माफियाओं के खिलाफ पुलिस के साथ मिलकर कार्रवाई करेगी। एसपी केसर सिंह शेखावत ने कार्यपालक मजिस्ट्रेट के साथ टास्क फोर्स टीम लगाने के लिए जिला कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल को पत्र लिखा है। साथ ही मुरैना एसपी को भी पत्र भेजा है।

एसपी केसर सिंह शेखावत ने बताया कि जिले में अपराध नियंत्रण एवं अवैध बजरी खनन, परिवहन तथा भण्डारण के अवैध कारोबार पर प्रभावी अंकुश लगाए जाने के लिए आठ मील, थाना बसईडांग, चौकी हाउसिंग बोर्ड, थाना कोतवाली, पुधरई की पुलिया यूपी बाॅर्डर इलाका थाना सैंपऊ और मोरौली मोड (मुरारी गुर्जर की कोठी के पास) इलाका थाना कोतवाली पर नाके स्थापित किये गये है।

इन नाकों से गुजरने वाले बजरी ट्रेक्टरों को रोके जाने के दौरान कानून व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न होने का अंदेशा बना रहता है। ऐसी स्थिति में यह आवश्यक है कि इन बजरी माफियाओं को विरुद्ध हालात के अनुसार प्रभावी बल प्रयोग कर इन पर प्रभावी अंकुश लगाया जाये। इसके लिए यह आवश्यक है कि इन सभी नाकों पर कार्यपालक मजिस्ट्रेट सहित टास्क फोर्स से संबंधित सभी कार्मिकों की मौजूदगी रहे, ताकि सभी विभाग समन्वित रूप से कार्यवाही को अंजाम देते हुये किसी भी विषम परिस्थिति पर काबू पाने में सक्षम हो सके।

बजरी खनन के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही के लिए राज्य सरकार एवं उच्च न्यायालय द्वारा दिये गये निर्देशानुसार संयुक्त जांच दल के सदस्य लगाये जाने के लिए पूर्व में इस कार्यालय के पत्र क्रमांक 2494-90, 16 फरवरी के द्वारा निवेदन किया गया था। उक्त दलों को रात्रि के समय भी लगाया जाना अति आवश्यक है, ताकि चंबल रेता (बजरी) के अवैध खनन निर्गमन एवं भण्डारण की रोकथाम एवं बजरी माफियाओं के विरुद्ध प्रभावी एवं अपरिहार्य (विशेष) कार्यवाही की जा सके।
पिछले दस वर्षों में सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों पर हुए हमलों की सूची भी बनाएगी पुलिस

एसपी केसर सिंह शेखावत ने सभी सीओ और थाना प्रभारियों को निर्देश दिए हैं कि बजरी माफियाओं पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए इनके खिलाफ राजस्थान समाज विरोधी क्रिया-कलाप निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई करें। 10 वर्षों में हुए लोक सेवकों पर हमले व वन अधिनियम, वन्यजीव अधिनियम के तहत जिन माफियाओं के खिलाफ चालान हुए हैं, उनकी सूची बनाए।

साथ ही अवैध खनन या परिवहन से अर्जित की गई संपत्ति की सूची बनाकर आम सूचना संकलित कर जब्ती के संबंध में धारा 105 ई में वर्णित प्रावधानों के अंतर्गत संपत्ति अधिग्रहण एवं कुर्की के संबंध में विधिक प्रक्रिया अनुसार कार्रवाई करें। एसपी केसर सिंह शेखावत ने बताया कि माफियाओं को चिन्हित करके उनके खिलाफ राजपासा के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिसमें माफिया को चिन्हित कर इस्तगासा तैयार करके एक वर्ष तक निरूद्ध किया जा सकता है।
मप्र सीमा में पुलिस नाका स्थापित के लिए एसपी मुरैना को कहा
एसपी केसर सिंह शेखावत ने एसपी मुरैना को पत्र लिखकर कहा है कि सर्वोच्च न्यायालय की रोकथाम के बावजूद प्रतिबंधित क्षेत्र से मध्य प्रदेश सीमा में राजघाट क्षेत्र से बजरी का खनन करते हुये अवैध रूप से बजरी परिवहन करने वाले ट्रेक्टरों की वजह से जिले की सीमा में कानून-व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न होने का अंदेशा बना हुआ है।

ये ट्रेक्टर-ट्रोली में ओवर लोड बजरी भरकर अत्यधिक तेजगति व खतरनाक तरीके से ट्रैक्टर ट्रॉली को मध्य प्रदेश सीमा से गलत लाईन से चंबल पुल की ओर से जिले की सीमा में प्रवेश करते है। इनकी रोकथाम के प्रयास के दौरान न कंदल यातायात बाधित होता है बल्कि ये लोग पुलिस बल पर हमला करने को अमादा हो जाते है।

ऐसी स्थिति में भीड़ भरे राष्ट्रीय राजमार्ग पर इनको रोके जाने के लिये बल प्रयोग किये जाने की स्थिति में कानून-व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न होने का पूरा-पूरा अंदेशा रहता है। इस सम्बन्ध में यह अनुरोध कि जिला मुरैना की सीमा में चंबल पुल से पहले ऐसे अवैध बजरी से भरे वाहनों को रोके जाकर कार्यवाही के लिए वहां पर पर्याप्त पुलिस जाब्ते सहित पुलिस चैक पोस्ट स्थापित की जावे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें