पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का खतरा बड़ा:कोविड वैक्सीनेशन एवं जांच के लिए आमजन की भागीदारी और जागरुकता महत्वपूर्ण : कलेक्टर

धौलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना की द्वितीय लहर ज्यादा खतरनाक साबित हो रही है। मृत्यु दर का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। लगातार कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के चलते जनजागरूकता एवं कोरोना वैक्सीनेशन व जांच बहुत ही महत्वपूर्ण है। कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने 45 वर्ष से अधिक उम्र के अधिक से अधिक लोगों को कोविड वैक्सीनेशन से लाभान्वित करने के कार्य में सहयोग का आग्रह किया है। उन्होंने इस कार्य में जिला प्रशासन की सहायता कर सर्वाधिक व्यक्तियों का वैक्सीनेशन करवाने वाले वार्ड को पुरस्कृत करने घोषणा की।

उन्होंने कहा कि कोविड का वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और कोविड को हराने के लिए इसके प्रति पूर्वाग्रह और भ्रान्तियां दूर कर जिले में भी कोविड वैक्सीनेशन को जन आन्दोलन बनाना होगा। उन्होंने बताया कि जिले में पर्याप्त संख्या में दिवसवार 170 टीमें गठित कर अधिक सैंपलिंग सेंटर्स बनाए गए हैं जिससे पूर्ण जिला व क्षेत्रों को कवर करते हैं। उन्होंने कोरोना लक्षणों वाले व्यक्तियों के सैंपलिंग भी अधिक से अधिक करवाने की अपील की।

उन्होंने कहा कि सैंपलिंग से कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोककर किसी भी स्थल को हॉट स्पॉट बनने से रोका जा सकेगा। कलेक्टर ने बताया कि पूरे जिले में समस्त पीएचसी, सीएचसी सहित अन्य जगहों पर वैक्सीनेशन सेंटर्स स्थापित किए गए हैं। जिला कोविड वैक्सीनेशन के आंकड़ों में द्वितीय स्थान पर रह है। एक अप्रेल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों के कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य है। इस कार्य को जन-आन्दोलन बनाना ही होगा। इसमें सभी जनप्रतिनिधियों का सहयोग अपेक्षित और अपरिहार्य है। कोरोना की दूसरी लहर के लक्षण दिखाई दे रहे हैं और वैक्सीनेशन, जागरूकता और कोरोना प्रोटोकॉल की पालना ही इससे बचाव है।

वैक्सीनेशन और प्रोटोकॉल की पालना बहुत जरूरी है। राज्य सरकार और जिला प्रशासन द्वारा इसके लिए कई स्तर पर आईईसी, समझाइश जारी है, लेकिन जनप्रतिनिधियों का सहयोग सबसे अहम है क्योंकि उनकी पहुंच हर कॉलोनी, मोहल्ले और घर-घर तक है। उन्होंने कहा कि जिस किसी वार्ड में 200 से अधिक लोग कोविड वैक्सीनेशन के लिए इच्छुक होंगे वहां विशेष शिविर लगा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जनसेवक, जनप्रतिनिधि और स्थानीय पार्षद के नाते कोविड वैक्सीनेशन में उनकी भूमिका महत्वपूर्ण है।

लोग उनकी बात सुनते हैं और इस सम्बन्ध में भ्रान्तियां दूर करने में भी वे बहुत अधिक प्रभावी भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों, सरपंचों, पार्षदों का आह्वान किया कि जिले में कोई भी पात्रा व्यक्ति कोविड टीकाकरण से वंचित नहीं रहे। सभी का यह सहयोग कोविड के विरुद्ध एक प्रोटेक्शन शील्ड साबित होगा। उन्होंने बताया कि पिछले एक साल में सभी ने मिलकर कोरोना को नियंत्रित किया और इस दौरान मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर एवं संसाधनों में उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई लेकिन अब फिर लापरवाही के कारण दूसरी लहर सामने है।

कोरोना वायरस को लेकर बाड़ी नगर पालिका ने तेज किया जागरुकता अभियान
बाड़ी. बाड़ी नगर पालिका प्रशासन के द्वारा एक बार फिर से कोरोनावायरस को लेकर जागरूकता अभियान तेजी से चलाया जा रहा है इसकी जानकारी देते हुए नगर पालिका अधिशाषी अधिकारी विजय प्रताप द्वारा बताया गया कि देश में एक बार फिर से लॉकडाउन का संकट मंडराने लगा है इसका सबसे बड़ा कारण लोगों के द्वारा बरती जा रही लापरवाही है जिसे लेकर नगर पालिका प्रशासन एक बार फिर से सजग होकर लोगों में जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रहा है जिसके अंतर्गत कस्बे में जगह-जगह पम्पलेट चिपका कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है साथ ही कचरा उठाने के अलावा अन्य नगर पालिका वाहनों के द्वारा इलेक्ट्रॉनिक संदेश भी प्रसारित किया जा रहा है नगर पालिका के कर्मचारियों के द्वारा घर-घर जाकर पम्पलेट वितरित कर कोरोना से बचाव के लिए आमजन को जागरूक किया जा रहा है, जिसके साथ ही आज पालिका की टीम ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचकर पम्पलेट स्टीकर चस्पा किये साथ ही सोशल मीडिया एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से लोगों को प्रोटोकॉल की पालना के लिए आग्रह किया जा रहा है इस दौरान पालिका के तपेश बिधूडी, शिवशंकर पचौरी, निखिल यादव, रामकुमार कोली, गोविंद यादव, अंकित कुमार सहित अन्य कर्मचारी भी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें