धौलपुर में महिला से नहीं हुआ था गैंगरेप:SP बोले- मामले में हर पहलू से जांच पूरी, पीड़िता और पति के साथ हुई थी मारपीट

धौलपुर3 महीने पहले
एसपी शिवराज मीणा ने महिला से गैंगरेप की घटना को सिरे से नकार दिया है। - Dainik Bhaskar
एसपी शिवराज मीणा ने महिला से गैंगरेप की घटना को सिरे से नकार दिया है।

धौलपुर में महिला से गैंगरेप मामले में एसपी शिवराज मीणा ने बड़ा खुलासा किया है। 3 दिनों से चल रही जांच के बाद एसपी ने महिला से गैंगरेप की घटना को सिरे से नकार दिया। एसपी ने कहा कि पीड़िता के 164 के बयान दर्ज कर मामले में हर पहलू पर बारीकी से जांच की गई। जांच में सामने आया कि पीड़िता के साथ गैंगरेप जैसी कोई घटना नहीं हुई है। हालांकि एसपी ने महिला से मारपीट करने की बात स्वीकार की है। यह मामला कंचनपुर थाना क्षेत्र में सामने आया था।

एसपी ने बताया कि सीओ सैंपऊ से मामले की जांच कराई गई है। जांच में सामने आया कि 15 मार्च को खेत से लौटते समय गांव के 6-7 लोगों ने महिला और उसके पति के साथ मारपीट की थी। इसके बाद महिला ने गैंगरेप का मामला दर्ज कराया। महिला से मारपीट करने वाले आरोपियों को चिन्हित कर लिया गया है। एसपी ने जल्द ही मारपीट के आरोपियों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है।

यह था पूरा मामला
पीड़ित महिला ने 16 मार्च को कंचनपुर थाने में हथियार के दम पर गैंगरेप करने की रिपोर्ट दी थी। रिपोर्ट देकर महिला ने बताया था कि वह 15 मार्च को शाम करीब 6 बजे सरसों की फसल काटकर अपने पति और बच्चों के साथ घर लौट रही थी। रास्ते में गांव के कुछ दबंग लोगों ने हथियारों के दम पर महिला के पति के साथ मारपीट की। इसके बाद महिला के साथ पति और बच्चों के सामने ही गैंगरेप किया। पीड़ित महिला की शिकायत पर पुलिस ने गैंगरेप का मामला दर्ज किया था और मामले की जांच कर रही थी।

गैंगरेप पीड़िता बोली-बाहर निकलेंगे तो मारे जाएंगे:दबंगों के डर से घर में कैद परिवार, खड़ी फसल सूख रही, भूखे मरने की नौबत से भी दहशत

पति और बच्चों के सामने महिला से गैंगरेप:खेत से घर लौट रही थी, पति-बच्चों को बंधक बनाकर की हैवानियत; आरोपी पुलिस पकड़ से दूर