पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दस्यु की ससुराल में रार:सलहज ने पत्थर मारकर डकैत जगन गुर्जर का सिर फोड़ा, साला हुआ फरार

बाड़ी25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ममिया ससुर के घर फायरिंग और मारपीट

बाड़ी कोतवाली थाने से वांछित डकैत जगन के साले को पकड़ने के लिए बाड़ी कस्बे के गुमट मोहल्ले में पुलिस द्वारा दी गई दबिश को लेकर डकैत जगन गुर्जर और उसके साले रवि के बीच झगड़ा हो गया। इस दौरान साले की पत्नी द्वारा फेंका गया पत्थर डकैत जगन के सिर पर लगने से उसके सिर में चोट आई। जगन को चोट लगते देख साला मौके से भाग गया।

इसके बाद गुस्साए जगन ने साले की पत्नी और उसकी मां से मारपीट कर दी। वहीं साले को ढूंढ़ते हुए जगन ने उसकी ससुराल और ममिया ससुर के घर पर भी मारपीट के बाद फायरिंग कर दी। फायरिंग से ग्रामीणों में दहशत फैल गई। डकैत जगन गुर्जर, उसके बेटे आसाराम और साले जग्गो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें रवाना कर दी है।

पुलिस द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि 7 जुलाई की रात को गांव इब्राहिमपुर में राजवीर फौजी के मकान और गांव सोने का गुर्जा निवासी सज्जन सिंह पुत्र महेंद्र सिंह गुर्जर के मकान पर दस्यु जगन गुर्जर व उसके पुत्र आसाराम व साले जग्गो पुत्र सरूया निवासी फदाले का पुरा थाना मासलपुर द्वारा फायरिंग और मारपीट करने की घटना के संबंध में हथियार सिंह पुत्र उत्तम सिंह गुर्जर निवासी गांव इब्राहिमपुर ने एक रिपोर्ट पेश की है।

परिवादी हथियार सिंह रिश्ते में डकैत जगन गुर्जर का ममिया ससुर लगता है। वहीं सज्जन सिंह पुत्र महेंद्र सिंह गुर्जर निवासी ग्राम सोने का गुर्जा डकैत जगन गुर्जर के साले रवि का ससुर है। बाड़ी सदर थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह ने बताया कि डकैत जगन के खिलाफ तीन मामले दर्ज करवाए गए हैं।

जगन पर बाड़ी पुलिस से दबिश कराने का आरोप

पुलिस की दबिश के बाद साले और उसकी मां ने जगन पर लगाया पुलिस भेजने का आरोप

बाड़ी सदर थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह ने बताया कि डकैत जगन गुर्जर का साला रवि बाड़ी कोतवाली थाने में वांछित है। रवि को पकड़ने के लिए कोतवाली पुलिस ने गांव में दबिश दी। दबिश की सूचना लगते ही रवि फरार हो गया। पुलिस को घर पर सिर्फ रवि की मां और पत्नी मिलीं। पुलिस के जाने के बाद रवि और उसकी मां का डकैत जगन से मुहंवाद हो गया। साले और उसकी मां का आरोप है कि रवि को पकड़ने के लिए डकैत जगन ने पुलिस से दबिश डलवाई है। जिसको लेकर शुरू हुआ विवाद झगड़े में बदल गया।

जगन ने उत्पात मचाया साले की पत्नी को पीटा

साले रवि और डकैत जगन के बीच हुए झगड़े को देख रवि की पत्नी ने पत्थर फेंककर मारा जो डकैत जगन के सिर पर लगा। पत्थर लगने के बाद साला रवि मौके से फरार हो गया। जिसके बाद रात को डकैत जगन गुर्जर अपने दो साथियों के साथ रवि घर पहुंच गया। घर पर रवि नहीं मिलने पर जगन ने रवि गुर्जर की पत्नी के साथ मारपीट शुरू कर दी।

जगन ने करीब आधे घंटे तक जमकर उत्पात मचाया। जगन साले रवि को ढूंढने के लिए मामा के घर इब्राहिमपुर पहुंचा जहां जगन ने अफायरिंग की। इसके बाद रवि की ससुराल सोने का गुर्जा पहुंचा, जहां रवि के ससुरालीजनों से मारपीट की।

प्रदेश के टॉप-10 अपराधियों में शामिल है इनामी डकैत जगन गुर्जर

कुख्यात इनामी डकैत जगन गुर्जर राजस्थान के टॉप 10 अपराधियों में शामिल रहा था। पूर्व में जगन गुर्जर ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के महल को उड़ाने की धमकी दी थी। जगन गुर्जर का राजस्थान समेत उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में भी पूर्व में भारी आतंक रहा है। करीब 2 वर्ष पूर्व बाडी क्षेत्र में महिलाओं से मारपीट और टोल प्लाजा पर कर्मियों से मारपीट के मामले में एक बार फिर सुर्खियों में आने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

खबरें और भी हैं...