हथैनी में सरसों में लगा कीड़े किसान चितिंत..:बचाव के लिए मैलाथियान 50 ईसी का एक लीटर पानी में घोल बनाकर करें छिड़काव : योगेश शर्मा

रारह2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेत में खड़ी सरसों की फसल। - Dainik Bhaskar
खेत में खड़ी सरसों की फसल।

क्षेत्र के गांव हथैनी में सरसों में फूल आने से जहां किसान के चेहरे खिलने लगे थे, सरसों में कीड़ा यानि लट आने से किसान चितिंत होने लगा है। हथैनी निवासी किसान रघुनाथ सिंह सहित अन्य किसानों ने बताया कि गांव हथैनी में सरसों में फूल आने लगा है। लेकिन सरसों के फूल पर जब कीड़ा यानी लट भी लगने लगी है। जब विकास ही नही होगा तो फली का भी विकास नही होगा।

सरसों अनुसंधान के कार्यालय परियोजना निदेशक आत्मा भरतपुर के योगेश कुमार शर्मा ने बताया कि सरसों की फसल पर इस कीट से बचाव के लिए मैलाथियान 50 ईसी अथवा क्यूनालफॉस 25 ईसी दवा का एक लीटर पानी में 2 एमएल दवा का घोल बनाकर प्रति बीघा छिड़काव करें अथवा मैलाथियान या क्यूनालफॉस पाउडर 4 किलो प्रति बीघा की दर से भुरकाव करावें। साथ ही उन्होंने कहा कि किसान नियमित रूप से सरसों की फसल का निरीक्षण करते रहे और जैसे ही किसी भी रोग के लक्षण दिखाई दें, तुरंत रोगनाशक का छिड़काव करें।

खबरें और भी हैं...