पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रैट स्नेक में तीन घंटे चली लड़ाई:हारे नर ने खेत में छिपकर बचाई जान, जीतने वाले काे इनाम में मिला इलाका व मादाएं

धौलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वर्चस्व के लिए लड़ने वाले दोनों सांप नर ही होते हैं। - Dainik Bhaskar
वर्चस्व के लिए लड़ने वाले दोनों सांप नर ही होते हैं।

सदर थाना इलाके के गांव मियां का पुरा में दो सांपों (रैट स्नेक) की लड़ाई शुरू हुई तो इसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ भी जुट गई। करीब तीन घंटे तक चली इस लड़ाई में एक सांप को हरना पड़ा और वह दूसरे खेतों की तरफ भाग गया। जलीय जीवों के जानकार राजीव तोमर का कहना है कि ऐसा मई और जून के महीनों में अक्सर देखा जाता है। वर्चस्व के लिए लड़ने वाले दोनों सांप नर ही होते हैं।

उनके बीच यह लड़ाई इलाके के लिए होती है। इस लड़ाई में जो नर सांप जीत जाता है, उसी का पूरे इलाके पर राज होता है और उस इलाके में रहने वाली सभी मादा सांप उसकी अमानत होती हैं। मानसून से पहले मादा सांप अंडे देती हैं। रेड स्नैक सांप नालियों में रहता है और चूहों को खाता है। यह जहरीला नहीं होता है।

खबरें और भी हैं...