पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सहायता:गरीब जरूरतमंद की सेवा ही सच्ची सेवा : कलेक्टर

धौलपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सोशल मीडिया के माध्यम से एकत्रित 20 हजार 58 रुपए की राशि का गुड्डी को सौंपा चेक

मनुष्य के सामने अनायास ही कई बार विपत्तियां आने से बहुत बड़ा संकट पैदा हो जाता है लेकिन सामुदायिक सहभागिता के द्वारा जरूरतमंद गरीब लोगों के परिवार को संबल प्रदान कर राहत दिलाई जा सकती है। इसी क्रम में पिछले महीने गुड्डी के पति विनोद सिकरवार निवासी पुराना रिसाला धौलपुर को कुछ अज्ञात लोगों ने बेरहमी से मारपीट कर मनिया कस्बे में बेहोशी की हालात में सड़क के किनारे छोड़ दिया।

इसके बाद आगरा के एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। गुड्डी पर दुखो का पहाड़ तो टूट ही पड़ा इसके अलावा परिवार में आर्थिक हालात पहले से बहुत ही कमजोर ओर अब पति के मृत्यु के बाद वृद्ध सास ससुर और 2 बच्चों व 3 बच्चियों परवरिश की जिम्मेदारी आ गयी। मामला संज्ञान में आने पर जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने फिलहाल आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कॉन्टेक्टबेस पर महिला को बाल विकास विभाग में नौकरी दिलाने के निर्देश दिए।

उन्होंने आगे आकर महिला को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया जिसमें विधवा पेंशन, बच्चों को पालनहार योजना का लाभ सहित भामाशाहों के सहयोग से मदद का भरोसा दिलाया। जिला कलक्टर ने भी भामाशाहों के माध्यम से मदद करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि व्याख्याता भगवान सिंह मीना द्वारा अवगत कराया और 20 हजार 58 रुपये सोशल मीडिया के माध्यम से एकत्रित किये। मिशन मदद में जिन लोगों ने योगदान दिया उनके कार्य को जिला कलक्टर ने सराहा।

लुपिन संस्था द्वारा 10 हजार रुपये की मदद एवं अध्यापिका नेहा पाठक द्वारा 1 वर्ष तक प्रतिमाह 2 हजार रुपये का राशन सहित कुल 24 हजार की मदद सहित कुल 54 हजार 58 का सहयोग पीड़ित परिवार को मिला। जिला कलक्टर द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से एकत्रित 20 हजार 58 रुपये की राशि का चैक मंगलवार को गुड्डी देवी को सौंपा और परिवार को ढांढस बंधाया। उन्होंने बालिका विद्यालय धौलपुर में भूगोल के व्याख्याता भगवान सिंह मीना के द्वारा चलाये गए मिशन मदद, लुपिन संस्था द्वारा समय समय पर जरूरतमंद लोगों की मदद को सराहा।

इस मौके पर जिला कलेक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने कहा कि सामाजिक सरोकार कर हमें अपने आसपास समाज, गली, मोहल्ले, कस्बे में प्रत्येक जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करनी चाहिए। मनुष्य ही विपत्ति में मनुष्य के काम आता है। सरकार के द्वारा दी जाने वाली मदद के अलावा सामाजिक सरोकार के द्वारा भी जरूरतमंद लोगों की मदद की जा सकती है।

खबरें और भी हैं...