वूमन वेलफेयर सोसायटी ने टीकाकरण की शुरूआत की:सरविक्स कैंसर से बचाव काे वैक्सीनेशन अभियान, पहला टीका प्रतिभा सिंह ने लगवाया

धाैलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धौलपुर. अभियान के तहत सरविक्स कैंसर से बचाव के लिए टीका लगवाती प्रतिभा सिंह। - Dainik Bhaskar
धौलपुर. अभियान के तहत सरविक्स कैंसर से बचाव के लिए टीका लगवाती प्रतिभा सिंह।
  • शोभना बोहरा ने ₹6 हजार रुपए गरीब परिवार की बच्चियों को वैक्सीन के लिए दान किए

पूरी दुनिया में जितने कैंसर सरविक्स के मरीज पाए जाते हैं, उनमें से सबसे ज्यादा हमारे देश में होते हैं। क्योंकि यह कम उम्र में होने वाला कैंसर है, और यह शरीर का एकमात्र ऐसा कैंसर है, जिसका टीका उपलब्ध है। अतः लोगों में जागरूकता की आवश्यकता है जिससे वह इस वैक्सिन को अपनाकर इस जानलेवा बीमारी से अपने घर की बच्चियों और महिलाओं को बचा सकते हैं। इसी उद्देश्य से वूमन वेलफेयर सोसाइटी धौलपुर की ओर से टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है, गरीब परिवार की बच्चियों को टीका लगाने के लिए सोसाइटी मदद करेगी।

कांग्रेस नेता डाॅ शिवचरण की बेटी प्रतिभा सिंह ने वैक्सीन लगाकर इस अभियान की शुरुआत की है। इस माैके पर डाॅ शिवचरण कुशवाह की पत्नी रजनीकांता कुशवाह भी माैजूद रहीं। सोसायटी की अध्यक्ष शोभना बोहरा ने ₹6000 दान देकर गरीब परिवार की बच्चियों को वैक्सीन लगाने के लिए दान कर अभियान के लिए राशि एकत्रित करने की शुरुआत की। सोसाइटी की सभी महिलाएं अपने परिचितों, मित्रों और सहयोगीयों के बच्चियों को इस वैक्सीन को उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

इसी काे लेकर धौलपुर वूमन वेलफेयर सोसाइटी की मीटिंग श्रीमती दीपाली बेरी के निवास पर संपन्न हुई मीटिंग में डॉ चित्रा बंसल द्वारा सरविक्स कैंसर (बच्चेदानी के मुंह) की वैक्सीन के बारे में जागरूकता फैलाने और अपने घर की बच्चियों और बहुओं को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया गया। मीटिंग में निर्णय लिया गया कि अपने घर की 8 वर्ष से 45 वर्ष तक के सभी बच्चियों और महिलाओं को सरविक्स के कैंसर से बचाव की वैक्सीन लगवाई जाएगी और इस वैक्सीन के बारे में अपने परिवारों मित्रों और समाज में जागरूकता लाने के प्रयास किए जाएंगे।

गरीब परिवार की बच्चियों को सोसायटी द्वारा इस वैक्सीन को लगवाने की व्यवस्था की जाएगी। इस मीटिंग में नीलम बोहरा, रचना सरीन, लिली बोहरा, मृदुला जैन, मधु गर्ग,रागिनी अग्रवाल, डॉ सीमा गर्ग, इंदिरा जिंदल, शालिनी गुप्ता, निधि गुप्ता, राजी गोगना,संध्या शर्मा, उमा बंसल ,सुनीता खोसला आदि उपस्थित थे।

देश में हर साल 1 लाख 32 हजार महिलाएं सर्वाइकल कैंसर से होती हैं पीड़ित : डॉ. बंसल

डाॅ. चित्रा बंसल बताया कि दुनिया भर में सर्वाइकल कैंसर के जितने मामले सामने आ रहे हैं उनमें सबसे ज्यादा भारत में ही पाए जाते हैं।महिलाएं जरा सी सावधानी और जागरुकता बरतकर इस कैंसर से काफी हद तक खुद काे बचा सकती हैं। इसके लिए उन्हें अपने जननांगाें की समुचित साफ सफाई और पुरुष साथी की हाइजीन का ध्यान रखना चाहिए।

नियमित शारीरिक परीक्षण करवाना चाहिए और एहतियात के ताैर पर एचपीवी वैक्सीन लगवा लेना चाहिए। यही एेसा कैंसर है जिसका टीका यानि वैक्सीन आसानी से उपलब्ध है। आमताैर पर 9 से 10 साल से लेकर 44 से 45 साल तक की महिलाएं इसे लगवा सकती हैं। यह टीका महावारी के दाैरान भी लगाया जा सकता है। टीके की तीन डाेज लेनी पडती है। एक डाेज की कीमत 2200 से 2800 रुपए के करीब आती है।

उन्हाेंने बताया कि टीकाकरण की प्रक्रिया शुरु हाेने के बाद ब्रेक नहीं करना चाहिए। ठीक समय पर तीनाें डाेज लगवा लेनी चाहिए। जी घबराए या उल्टी की इच्छा हाे ताे भी चिंता की बात नहीं। वैक्सीन लेने के बाद भी सारी सावधानियां साफ सफाई व हाइजीन मेंटेन करें बेपरवाह न हाें जाएं। इंडियन जनर्ल ऑफ मेडिकल एंड ओंकाेलाॅजी में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार हमारे देश में हर साल 1 लाख 32 हजार महिलाएं सर्वाइकल कैंसर से पीडित हाे जाती हैं।

खबरें और भी हैं...