भागवत कथा जीवन जीने की कला सिखाती है:गिरिराज जी को लगाया छप्पन भोग, कथा सुनने उमडे़ लोग

नदबई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गिरिराज गोवर्धन भगवान विष्णु स्वरूप है। भगवान कृष्ण ने गिर्राज जी के लिए यज्ञ करके यह सिद्ध किया कि अगर भगवान को प्रसन्न कर लिया जाए तो देवी देवताओं को प्रसन्न करने की आवश्यकता नहीं रह जाती है। उन्होंने कहा कि भागवत कथा जीवन जीने की कला भी सिखाती है।

हमें इसके संदेश को जीवन में अपनाना चाहिए। ये बात कथावाचक छबीले छैल बिहारी महाराज ने भागवत कथा के दौरान कही। आयोजन कस्बा स्थित बागपतिया धर्मशाला में हुआ। कथा में गिरिराज जी को छप्पन भोग लगाया गया। इस मौके पर केशव देव खंडेलवाल सहित समाज के सैकड़ों महिला व पुरुष मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...