पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना:जिले के 35 हजार किसानों को हर बिजली बिल पर मिलेगा 1000 का फायदा

भरतपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिजली चोरी के मामले में दोषी पाए गए उपभोक्ताओं को इस योजना का नहीं मिलेगा लाभ

भरतपुर जिले के 35407 किसानों को बिजली बिल पर बड़ी राहत मिलने जा रही है। मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना’ के तहत हर किसान परिवार को बिजली के बिल पर एक हजार रुपए प्रतिमाह अनुदान देगी। यह अनुदान कनेक्शनधारी किसान के बैंक खाते में जाएगा। इस योजना का लाभ इसी साल मई से आए बिजली के बिलों पर लागू होगा। इस संबंध में डिस्कॉम की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं।

जानकारी के अनुसार बिजली के बिलों पर अनुदान देने की योजना इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समय हुई थी। तब हर किसान को हर महीने 833 रुपए अनुदान के रूप में मिलते थे, लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस योजना को आते ही बंद कर दिया था और नए सिरे से योजना को लागू कर ज्यादा राशि देने का ऐलान किया था।

योजना के ड्राफ्ट के मुताबिक, अगर कोई उपभोक्ता बिजली चोरी करता पकड़ा गया या बिजली चोरी का दोषी है, तो उसे अनुदान राशि नहीं मिलेगी। विद्युत चोरी या निगम सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने का दोषी होने की स्थिति में अनुदान राशि दोष मुक्त होने एवं पूरी आरोपित राशि जमा करवाने के बाद अगले महीने से होने वाली बिलिंग में लाभ मिलना प्रारंभ होगा।

केन्द्र-राज्य सरकार के कर्मचारी एवं आयकरदाता इसके लिए पात्र नहीं होंगे। उपभोक्ताओं को अपने आधार संख्या एवं बैंक खाते को योजना से जुड़वाना होगा। उपभोक्ता पर विद्युत वितरण निगम का बकाया नहीं होना जरूरी है। अधीक्षण अभियंता संजय अग्रवाल ने बताया कि डिस्कॉम की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं। नियमानुसार उपभोक्ताओं को योजना का लाभ दिया जाएगा।

विद्युत वितरण कंपनी की ओर से कृषि उपभोक्ताओं को दो महीने में एक बार बिलिंग व्यवस्था के अनुसार विद्युत बिल जारी किए जाएंगे। अनुदान राशि सामान्य श्रेणी ग्रामीण (ब्लॉक सप्लाई) कृषि उपभोक्ताओं को मीटर और डिफ्केटिव एवं फ्लैट रेट श्रेणी दोनों में देय होगी।

यह अनुदान राशि उन उपभोक्ताओं को नहीं मिलेगी, जिन पर बिजली कंपनियों का कोई बकाया चल रहा है। अगर किसी महीने उपभोक्ता के बिजली का बिल एक हजार रुपए से कम आता है तो शेष अनुदान की राशि का समायोजन अगले महीने के बिजली के बिल में कर दिया जाएगा।

जानिए कैसे हमें मिलेगा लाभ

Q. बिल एक हजार से कम आया तो क्या होगा?
A. उपभोक्ता के बिजली का बिल एक हजार रुपए से कम आता है तो शेष अनुदान की राशि का समायोजन अगले महीने के बिल में हो जाएगा।

Q. क्या हर माह बिल जारी होंगे?
A. कंपनी की ओर से कृषि उपभोक्ताओं को दो महीने में एक बार बिलिंग व्यवस्था के अनुसार विद्युत बिल जारी किए जाएंगे।

Q. 1000 अनुदान का लाभ कौन उठा सकता है?
A. अनुदान राशि सामान्य श्रेणी ग्रामीण (ब्लॉक सप्लाई) कृषि उपभोक्ताओं को मीटर एवं फ्लैट रेट श्रेणी दोनों में देय होगी।

Q. मेरे बिल बकाया है, तो क्या अनुदान मिलेगा?
A. बिजली का बिल बकाया होने पर नहीं मिलेगा लाभ।

इस तरह से मिलेगा फायदा: इस योजना का फायदा लेने के लिए इस योजना के पात्र किसानों को अपने बैंक खाते को आधार से लिंक करना होगा। इसके साथ ही पहले से किसान विद्युत वितरण निगमों का कोई बकाया नहीं चाहिए, ऐसा होने पर उन्हें अनुदान की राशि नहीं दी जाएगी. बकाया भुगतान कर देने पर उपभोक्ता को अनुदान राशि आगामी विद्युत बिल पर देय होगी।

खबरें और भी हैं...