पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना अपडेट:89 नए पॉजिटिव मिले, ज्यादा लोगों के टेस्ट हुए तो कई जिलों को फिर पीछे छोड़ देंगे हम

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सावधानी ही समझदारी है, पिछले महीने 100 में से 5 थे, अब 11 मिल रहे पॉजिटिव, संक्रमितों का आंकड़ा 7500 के पार पहुंचा

हमारे यहां कोरोना फिर कहर बरपाने लगा है। इसलिए मास्क को ही वैक्सीन मानकर सावधानी बरतने में ही समझदारी है। क्योंकि चुनाव, सर्दियों और शादियों का सीजन होने से इस महीने कोरोना फैलने की स्पीड काफी बढ़ी है। हालात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अक्टूबर के मुकाबले इस महीने हमारे यहां सैंपलिंग लगभग 50 फीसदी कम हुई है। जबकि रोगी पिछले महीने 1529 के मुकाबले इस महीने 27 दिन में ही 1642 मिल चुके हैं।

यह संख्या अब तक का रिकार्ड है। जबकि कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7500 के पार पहुंच गया है। इनमें 89 तो शुक्रवार को ही मिले हैं। चिंता इसलिए भी है क्योंकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना की दूसरी लहर को जल्दी रोकने के लिए सभी जिलों में सैंपलिंग बढ़ाने को कहा है। जिला कलेक्टर नथमल डिडेल भी इसे लेकर संबंधित अधिकारियों को निर्देश दे चुके हैं।

अगर, सैंपलिंग ज्यादा हुई तो कोरोना संक्रमण फैलने के मामले में भरतपुर कई अन्य जिलों को पछाड़ सकता है। सरकारी आंकड़ों को ही मानें तो अक्टूबर में 30772 लोगों के सैंपल लिए गए। इनमें से 1529 लोग संक्रमित निकले थे। यानि 100 लोगों में से 5 लोग पॉजिटिव मिल रहे थे। जबकि नवंबर में अब तक 15166 सैंपल लिए गए हैं।

इनमें से 1642 लोग पॉजिटिव निकले हैं। यानि, 100 में से 11 लोग पॉजिटिव निकल रहे हैं। इस तरह पिछले महीने के मुकाबले सैंपलिंग 50 प्रतिशत कम हुई जबकि पॉजिटिव रोगी बहुत ज्यादा निकले। जबकि अब तक 103 लोग जान गंवा चुके हैं।

महीने दर महीने धड़कनें बढ़ाता रहा कोरोना
माह पॉजिटिव मौत
अप्रैल 111 02
मई 185 02
जून 1333 32
जुलाई 942 20
अगस्त 1355 22
सितंबर 665 11
अक्टूबर 1529 14
27 नवम्बर तक 1642 09

बयाना एसडीएम कार्यालय में डेपुटेशन पर तैनात प्रोबेशनर आरपीएस निकला पॉजिटिव: बयाना. एसडीएम कार्यालय की चुनाव शाखा में डेपुटेशन पर कार्यरत एक कर्मचारी के कोरोना पॉजिटिव आने पर एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार समेत के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों के 35 सेम्पल लिए।

सीधी बात; डॉ. लक्ष्मण सिंह, कार्यवाहक सीएमएचओ

सवाल- नवंबर में सैंपलिंग कम होने पर भी ज्यादा रोगी कैसे बढ़े। जवाब- त्योहारी सीजन और शादियों में लोग एक-दूसरे के संपर्क में ज्यादा आए। इससे संक्रमण ज्यादा फैला। सवाल- अक्टूबर के मुकाबले आधी ही सैंपलिंग होने का क्या कारण रहा? जवाब- टीमें त्योहार के दौरान व्यस्त रही। लोग भी अब जांच कराने से बच रहे हैं। अब सैंपलिंग बढ़ा रहे हैं। सवाल- क्या सैंपलिंग बढ़ाई गई है? जवाब- आरबीएम व सैटेलाइट अस्पताल में भी सैंपलिंग शुरू की है। ब्लाक स्तर पर यह व्यवस्था पहले से ही हैं। सवालः लक्षण वालों के ही सैंपल हो रहे हैं, बिना लक्षण वालों के क्यों नहीं? जवाब- नई गाइडलाइन में अब निकट संपर्क वाले, विभिन्न बीमारियों वाले, गर्भवती महिलाएं, 10 साल से कम के बच्चे के सैंपल लिए जा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser