पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तैयारी:बिहारीजी मंदिर के लिए 9 शिलाओं का पूजन

भरतपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन के बाद मंदिर निर्माण में आई तेजी, एक साल और लगेगा, 43 फुट ऊंचा बनेगा शिखर

बिहारीजी मंदिर गर्भगृह का निर्माण मंगलवार से प्रारंभ हो गया। मंगलवार को सुबह गर्भगृह में 9 शिलाओं को अभिषेक, पूजन और प्रतिष्ठा की गई। इस मौके पर वेद मंत्रोच्चार हुए। साथ ही नंदा, भद्रा, रिक्ता, जया, पूर्णा, अपराजिता, शुक्ला, सौभाग्यनी और धारणी शिला का पूजन किया गया। करीब ढाई बाई ढाई फुट की इन शिलाओं पर संबंधित देवी का मूर्त रूपण भी किया हुआ था।

पूजन के बाद इन्हें विधि-विधान से 25 फीट गहरी नींव में लगाया गया। माना जाता है कि बड़े मंदिरों, महलों और भवनों में वास्तु शास्त्र के अनुसार नौ देवियों की प्रतीक नाै शिलाओं को पूजन उपरांत स्थापित किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह नौ शक्तियों की प्रतीक है और इमारत को बांधकर रखती हैं। पंडित रामभरोसी भारद्वाज और जितेंद्र गुरु ने पूजन कराया।

इस मौके पर देवस्थान एवं आरयूआईडीपी के अधिकारी मौजूद थे। ज्ञात रहे कि बिहारीजी मंदिर का पुनर्निमाण करीब 10.38 करोड़ की लागत से किया जा रहा है। इसमें नृत्य और रंग मंडप का निर्माण हो चुका है। नृत्य और रंग मंडप के मध्य बरामदे में अस्थाई गर्भगृह में ठाकुरजी को अस्थाई रूप से विराजित किया गया है। गर्भगृह की ऊंचाई करीब 43 फीट रहेगी। मंदिर की लंबाई 131 फीट, चौड़ाई 56 फीट, नृत्य मंडप की ऊंचाई 22 फीट, रंग मंडप की ऊंचाई 27 फीट, शिखर की ऊंचाई 43 फीट होगी। मंदिर 54 पिलर पर खड़ा रहेगा। 

इसके अलावा 18 गुम्मट भी बनाए जा रहे हैं। मंदिर मैन गेट को हटाया जाएगा, ताकि मंदिर का स्वरूप स्पष्ट रूप से दिखे। इसकी एक अन्य वजह मैन गेट काफी पुराना और क्षतिग्रस्त होना भी है। इसके अलावा लाइटिंग और आउटर डवलपमेंट पर भी करीब 2 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें