पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से जीती जंग:फेफड़ों में 96 फीसदी संक्रमण और 79 ऑक्सीजन लेवल, काेराेना काे हराकर 10 दिन में घर लौट

भारतपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आईं अंजू अग्रवाल - Dainik Bhaskar
आईं अंजू अग्रवाल

मुझे 10 अप्रैल को खांसी-जुकाम ओर बुखार की शिकायत थी। मैंने दवाइयां लेना प्रारंभ किया। मूलत: आगरा की रहने वाली हूं। उन्हीं दिनाें मेरा भरतपुर आना हुआ। यहां तबीयत बिगड़ी ताे जांच करवाई जिसमें काेराेना पाॅजिटिव आया। आगरा में सुविधाएं ताे हैं, लेकिन रिश्तेदार सीए एमएल मित्तल की सलाह थी कि इलाज के लिहाज से भरतपुर बेहतर है।

16 अप्रैल काे आरबीएम में भर्ती हा़े गई। सीटी स्कैन में 24/25 यानी करीब 96 प्रतिशत इंफेक्शन आया। मैं न तो सांस ले पा रही थी और न बैठ पा रही थी। मुझे हाई फ्लो ऑक्सीजन दी गई । मुझे नॉर्मल आईसीयू से कोविड आईसीयू में ले जाया जा रहा था तो मैं हिम्मत हार गई थी। मेरा ऑक्सीजन लेवल 79 पहुंच गया। पति संजय ने हाैंसला दिलाया। बाेले- कुछ नहीं हाेगा। मेरी बेटियां भी लगातार मुझे मोटिवेट करतीं। डॉक्टर कहते थे कि तुम बहुत अच्छा कर रही हो, रिकवरी हा़े रही है। दवा और दुआओं से मुझे पॉजिटिव एनर्जी मिली और शरीर ने पॉजिटिव रिएक्ट किया। मुुुुझे 14 लीटर ऑक्सीजन देना पड़ती थी, वह अब एक लीटर पर आ गई। मेरे परिवार/रिश्तेदाराें ने मेरा साथ दिया और मैं ठीक होकर 10 दिन बाद घर वापस आ गई।

अंजू अग्रवाल, काेराेना वारियर्स

खबरें और भी हैं...