भास्कर विशेष:एसीबी ने दो गांव गोद लिए, कराएगी भ्रष्टाचार मुक्त विकास

भरतपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में मौजूद अतिथि और ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में मौजूद अतिथि और ग्रामीण।

एसीबी भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के साथ ही गांवों का चहुंमुखी विकास कराने का अभियान चलाएगी। इसके लिए एसीबी की प्रत्येक यूनिट एक गांव को गोद लेकर बतौर सजग ग्राम विकसित करेगी। भरतपुर एसीबी ने सेवर पंचायत समीति के गांव बांसी खुर्द और मुरवारा को गोद लिया है।अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को बांसी खुर्द स्थित अटल सेवा केन्द्र में अभियान की शुरुआत की।

ग्रामीणों को संबोधित करते हुए एसीबी मुख्यालय से आए एसपी कालूराम रावत ने कहा कि सामाजिक जिम्मेदारी के तौर पर ग्राम पंचायत को गोद लिया जा रहा है। जिसके तहत ग्रामवासियों को कभी रिश्वत नहीं देने का संकल्प दिला भ्रष्टाचार विरोधी जागरुकता फैलाने का प्रयास किया जा रहा है। गांववासियों को अपने वैध कार्य के लिए किसी को रिश्वत देने की आवश्यकता नहीं है।

साथ ही जन कल्याणकारी योजनाओं के लिए प्रशासन के साथ सामंजस्य स्थापित करने का काम किया जाएगा। प्रदेश में कुल 51 गांवों को सजग ग्राम के तौर पर गोद लिया गया है। शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक आर के मीना ने ग्रामीणों को विभाग की विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

तहसीलदार कैलाश गौतम ने मृत्यु प्रमाण पत्र, जमाबंदी इत्यादि कार्यों की प्रक्रियाओं और सरकारी शुल्कों की जानकारी दी। स्काउट-गाइड संगठन के सचिव वीरेंद्र शुक्ला ने गांव में पौधरोपण शुरू करने की घोषणा की। कार्यक्रम में एसएचओ अरुण चौधरी, पूर्व सरपंच श्याम सिंह और सरपंच रघुवीर सिंह ने भी विचार व्यक्त किए।

खबरें और भी हैं...