स्पीड में बाइक चलाने से टोका तो मार दी गोली:फायरिंग के बाद पत्थरों से पीट-पीट कर मारा, मां के पैर काटे

भरतपुर9 महीने पहले
मौके पर टूटी हुई गाड़ी और जमीन पड़े पत्थर।

भरतपुर में गुरुवार देर रात स्पीड में बाइक चलाने को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि दो लोगों का मर्डर कर दिया। बीच-बचाव में आई मां के पैर भी काट दिए। इससे पहले एक व्यक्ति ने दूसरे पक्ष पर फायरिंग कर मर्डर कर दिया तो इससे गुस्साएं परिजनों ने उसकी पत्थर पीट-पीट कर हत्या कर दी।मामला कुम्हेर थाना इलाके के बाबैन गांव का है। गुरुवार को गांव के ही अमर सिंह की बेटी की शादी थी। गांव में कार्यक्रम चल रहा था। तभी वहां गांव का ही सुनील नाम का युवक तेजी से मोटरसाइकिल लेकर जा रहा था। इस पर अमर सिंह के परिजनों ने रोक बाइक धीरे चलाने को कहा। इसको लेकर सुनील और अमर सिंह के परिजनों के बीच कहासुनी हो गई। इसके बाद अमर सिंह के परिजनों ने सुनील की पिटाई कर दी। घटना के बाद सुनील घर पहुंचा और उसने अपने पिता ब्रजेन्द्र को सारी घटना के बारे में बताया। बेटे की पिटाई का पता लगते ही ब्रजेन्द्र गुस्से में हथियार लेकर अमर सिंह के घर पहुंचा। ब्रजेन्द्र ने जाते ही अमर सिंह चाचा के बेटे भाई सुरेश को गोली मार दी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। शादी के कार्यक्रम के लिए पहले से वहां भीड़ मौजूद थी। इस पर लोगों ने उसे पकड़ लिया। गुस्साए लोगों ने ईंट, पत्थर और लाठी-डंडों से उसकी पिटाई शुरू कर दी। उसे इतना पिटा कि मौके ही मौत हो गई। अपने बेटे को बचाने के लिए मां केला देवी भी वहां पहुंच गई। इस पर गुस्साए लोगों ने उसकी मां के भी पैर काट डाले।

सूचना मिलने पर पुलिस गांव में पहुंची। सुरक्षा के तौर पर मौके पर पुलिस जाब्ता तैनात है।
सूचना मिलने पर पुलिस गांव में पहुंची। सुरक्षा के तौर पर मौके पर पुलिस जाब्ता तैनात है।

घटना के बाद पुलिस जाब्ता तैनात
सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। केला देवी को आरबीएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं शवों को मॉर्च्युरी में रखवाया गया है। परिवार में जिस लड़की की शादी थी उसकी बारात को भी पुलिस ने देर रात रोक दिया और गांव में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया।

बीच-बचाव में आई मां के पैर काट दिए। इसके बाद वृद्धा को आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया।
बीच-बचाव में आई मां के पैर काट दिए। इसके बाद वृद्धा को आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया।