धरने पर बैठे ग्रामीण:कम वोल्टेज आने से आक्राेशित ग्रामीणों ने भुसावर बिजलीघर पर किया धरना-प्रदर्शन

भुसावर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिजलीघर पर धरने पर बैठे ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
बिजलीघर पर धरने पर बैठे ग्रामीण।

गांव सुहारी सहित आसपास गांवो में वोल्टेज कम आने के चलते गुस्साए ग्रामीणों ने सरपंच प्रतिनिधि छबीले राम जाटव के नेतृत्व में भुसावर बिजलीघर पर धरना प्रदर्शन करते कस्बा सहित अन्य फीडरों की बिजली व्यवस्था ठप कर दी। छह घण्टे तक ग्रामीण अड़े रहने से बिजली उपभोक्ताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। सूचना पर अधिशाषी अभियंता पीके दुबे पहुंचे, ग्रामीणों को आश्वासन के बाद पांच घण्टे बाद बिजली दोपहर एक बजे सुचारू की गई।

ग्रामीणों का कहना था कि कम वोल्टेज आने से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिससे उनके बिजली उपकरण भी नही चलते है। लोगों का कहना था कि कम वोल्टेज की समस्या का पहले भी कई बार अधिकारियों को बता चुके है, लेकिन फिर भी समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है। इससे उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कनिष्ठ अभियंता प्रमोद शर्मा ने बताया कि गांव सुहारी सहित अन्य गांवों के ग्रामीणों ने भुसावर बिजलीघर पर आकर धरना प्रदर्शन किया।

वही बिजली व्यवस्था ठप कर दी। जिसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। सूचना पर एक्सईएन दुबे बयाना से यहां पहुंचे जिन्होंने ग्रामीणों की समस्या सुनकर आला अधिकारियों को बताई। क्योंकि वोल्टेज समस्या का समाधान ऊपरी स्तर पर ही होता है। उन्होंने ग्रामीणों को समझाइस कर भुसावर कस्बे सहित अन्य फीडरों की बिजली आपूर्ति सुचारु कराई गई। इस दौरान लगभग पांच से छह घण्टे विद्युत आपूर्ति ठप रही। उल्लेखनीय है कि बिजली समस्या को लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोग परेशान है।

साेमवार को रुपवास व बयाना के ग्रामीणों ने भी बिजली की समस्या को लेकर प्रदर्शन किया था। ग्रामीणों का कहना था कि डिस्कॉम व राजस्थान सरकार ने सिंगल फेज बिजली भी 16 से 17 घंटे तक देना निश्चित किया है, लेकिन यह भी 3 फेस के अलावा दो से तीन घंटे ही मिल रही है। यदि समय पर समस्या का शीघ्र समाधान नहीं किया गया तो किसानों को आंदोलन करना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...