भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर हमला, ड्राइवर ने कराई एफआईआर:घटना के 12 घंटे बाद भी नहीं पकड़े गए हमलावर, ड्राइवर बोला- हमले में सांसद रंजीता को नहीं आई चोट, दहशत से हुईं थीं बेहोश

भरतपुर5 महीने पहले
भरतपुर सांसद रंजीता कोली।

हलैना वैर-हंतरा रोड पर गुरुवार आधी रात हुए हमले में सांसद रंजीता कोली समेत किसी को भी कोई चोट नहीं आई। बल्कि वे दहशत से ही बेहोश होकर अस्पताल में भर्ती हो गईं। हमले के वक्त उनकी गाड़ी चला रहे ड्राइवर दीपक कुमार ने दर्ज कराई एफआईआर में यह बात स्पष्ट की है।

इधर, घटना के 12 घंटे बाद भी हमलावरों के नहीं पकड़े जाने से भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। शुक्रवार सुबह भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिला पुलिस अधीक्षक से मिलकर हमलावरों को गिरफ्तार करने की मांग की है। हलैना थाने में रात 1.35 बजे दर्ज एफआईआर के मुताबिक रात्रि 11.55 बजे सांसद वैर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) का आकस्मिक निरीक्षण करने जा रही थीं।

रास्ते में धरसौनी गांव के पास सफेद स्कॉर्पियो के साथ 4-5 बदमाश खड़े थे। उन्होंने सांसद की गाड़ी को रोकने का प्रयास किया। जब सांसद की गाड़ी रुकने के बजाय धरसौनी गांव की ओर मुड़ी तो बदमाशों ने गाड़ी पर सरिया और पत्थर मारे। इससे पिछला शीशा टूट गया। इस घटना में किसी को कोई चोट नहीं आई। उस वक्त गाड़ी में सांसद रंजीता, गनमैन लोकेश और संतोष भी था। जल्दबाजी में वे गाड़ी का नंबर नहीं देख पाए थे।

चिकित्सा राज्यमंत्री गर्ग आहत, बोले-जल्द गिरफ्तार हों हमलावर

भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर हुए हमले को लेकर चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग आहत हैं। उन्होंने भऱतपुर जिला पुलिस अधीक्षक और प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि हमलावरों को जल्द गिरफ्तार किया जाना चाहिए। इधर, जिला कलेक्टर समेत कई प्रशासनिक अधिकारियों और भाजपा नेताओं ने आरबीएम अस्पताल जाकर सांसद रंजीता कोली से मुलाकात की और उनकी कुशलक्षेम पूछी।

रिपोर्टः लक्ष्मण देशवाल