पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • Baba Hari Bol Had Warned Of Self immolation In Front Of The Collectorate, The Administration Talked To Baba, The State Government Would Be Complaining About Illegal Mining

बाबा ने आत्मदाह की चेतावनी वापिस ली:बाबा हरि बोल ने कलेक्ट्रेट के सामने दी थी आत्मदाह की चेतावनी, प्रशासन ने बाबा से की वार्ता, राज्य सरकार को की जाएगी अवैध खनन की शिकायत

भरतपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संभागीय आयुक्त सफेद कपड़ों में कार्यालय से बाहर निकलते सफ़ेद कपड़ों में बाबा हरी बोल। - Dainik Bhaskar
संभागीय आयुक्त सफेद कपड़ों में कार्यालय से बाहर निकलते सफ़ेद कपड़ों में बाबा हरी बोल।

भरतपुर जिले के ब्रज इलाके के प्राचीन काल पर्वतों पर हो रहे अवैध खनन को लेकर बाबा हरिबोल दास ने प्रशासन को आत्मदाह करने की चेतावनी दी थी जिसके बाद बाद बुधवार को प्रशासन ने बाबा हरिबोल दास को भरतपुर बुलाया और उनके साथ समझाइश की। प्रशासन से वार्ता के बाद बाबा ने आत्मदाह की चेतावनी फिलहाल वापिस ले ली लेकिन कफन यात्रा जारी रहेगी।

संभागीय आयुक्त पीसी वेरबाल ने बाबा हरि बोल दास को आश्वासन दिया की अवैध खनन रोकने के लिए मुख्यमंत्री को शिकायत की जाएगी। इसके अलावा ब्रज क्षेत्र में चल रहे ओवरलोडिंग वाहनों पर 15 दिनों के अंदर बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

दरअसल भरतपुर के ब्रज इलाके में प्राचीन काल के पहाड़ मौजूद हैं इन पहाड़ों पर भगवान श्री कृष्ण खेला करते थे। इन पहाड़ों पर भगवान श्री कृष्ण के चिन्ह मौजूद हैं, लेकिन अब खनन माफिया इन पहाड़ों से अवैध खनन करने में लगे हुए हैं जिसे रोकने के लिए बाबा हरिबोल ने मोर्चा खोल दिया है।

बाबा हरिबोल ने जिला प्रशासन से अवैध खनन को रोकने के लिए शिकायत की, लेकिन प्रशासन द्बारा कोई कदम नहीं उठाया गया जिसके बाद बाबा हरिबोल ने जिला कलेक्ट्रेट पर आत्मदाह करने की चेतावनी दी है। इसके लिए बाबा हरिबोल ने एक कफ़न यात्रा की भी शुरुआत की थी।

बुधवार को प्रशासन ने बाबा हरिबोल को वार्ता के लिए बुलाया। इस दौरान संभागीय आयुक्त ने बाबा हरिबोल को आश्वाशन दिया की वह मुख्यमंत्री गहलोत को अवैध खनन रोकने के लिए एक लेटर लिखेंगे। लेटर के द्बारा राज्य सरकार को अवैध खनन से जुड़ी एक-एक चीज को अवगत करवाया जायेगा। इसके अलावा ब्रज इलाके में हो रहे ओवरलोडिंग वाहनों पर जल्द ही कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

प्रशासन के अधिकारियों से मुलाकात के बाद बाबा ने बताया की व अपनी कफन यात्रा जारी रखेंगे। प्रशासन ने अवैध खनन को रोकने के लिए आश्वासन दिया जिसके लिए उन्हें समय दिया गया है। अगर प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं करता है तो आगे की रणनीति फिर से तैयार की जाएगी।

खबरें और भी हैं...