पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सरकारी कर्मियों को दोहरी खुशी:आरएएस-2018 में भरतपुर का दबदबा, पहली बार जिले से एक साथ बने 20 अफसर

भरतपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस परीक्षा में पहली बार भरतपुर जिले से 20 अभ्यथी उत्तीर्ण हुए हैं। - Dainik Bhaskar
इस परीक्षा में पहली बार भरतपुर जिले से 20 अभ्यथी उत्तीर्ण हुए हैं।
  • केंद्र और राज्य सरकार ने 11% महंगाई भत्ता बढ़ाया, इधर, परिजन बने राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी

सरकारी कर्मचारियों को एक साथ दोहरी खुशी मिली है। एक ओर जहां केंद्र और राज्य सरकार ने उनका महंगाई भत्ता 11 प्रतिशत बढ़ा दिया है। वहीं, आरएएस-2018 के मंगलवार देर रात जारी हुए परीक्षा परिणाम में उनके घरों में कई परिजन राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसर बन गए हैं। इस परीक्षा में पहली बार भरतपुर जिले से 20 अभ्यथी उत्तीर्ण हुए हैं।

इन्हें राजस्थान प्रशासनिक सेवा के तहत अलग-अलग विभागों में नियुक्ति मिलेगी। इनमें बयाना के 4, नदबई के 5, नगर के 3, भुसावर के 2, वैर के 3, भरतपुर शहर के 2 और कुम्हेर तहसील के सिकरोरा से एक अभ्यर्थी आरएएस अफसर बना है। इनमें से कई अभ्यर्थी ऐसे हैं जिन्होंने पहले ही प्रयास में यह सफलता हासिल की है।

इन अभ्यर्थियों ने बुधवार को दैनिक भास्कर से बातचीत में अपनी उपलब्धि पर चर्चा करते हुए कहा कि अगर कड़ी मेहनत, पक्का इरादा और लक्ष्य पर पूरा फोकस हो तो सफलता आवश्यक रूप से आपके कदम चूमेगी। उन्होंने इसी मूलमंत्र को ध्यान में रखते हुए इस परीक्षा की तैयारी की थी। उल्लेखनीय है कि भरतपुर जिले से जो अभ्यर्थी आरएएस अफसर बने हैं उनमें अधिकांश के परिवार में कोई न कोई पहले से ही सरकारी नौकरी में है। जबकि कुछ अभ्यर्थी खुद भी सरकारी कर्मचारी हैं।

खबरें और भी हैं...