फिर छाया कोहरा, पश्चिमी विक्षोभ फिर सक्रिय:13 जिलों में सबसे ठंडा रहा भरतपुर, मावठ के भी आसार

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोहरे के बीच निकलते वाहन। - Dainik Bhaskar
कोहरे के बीच निकलते वाहन।

राजस्थान में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है। इससे 2 या 3 दिसंबर को दूसरी मावठ हा़े सकती है। इसलिए मौसम में भी नरमी आई है। सोमवार को दिन का तापमान 1.7 डिग्री गिरकर 25.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह प्रदेश के 13 जिलों में सबसे कम है। माैसम विशेषज्ञ आरके सिंह का कहना है कि राजस्थान के पूर्वी हिस्सों में 1 दिसंबर से बारिश का दौर शुरू होने की उम्मीद है।

इसके साथ ही उदयपुर, कोटा, अजमेर और जयपुर संभाग में भी 2 से 5 दिसंबर के बीच बौछारें पड़ सकती हैं। बुधवार से बादल छाए रहने के साथ ही दिन के तापमान में और गिरावट आएगी। सोमवार को रात के पारे में भी 1 डिग्री की कमी आई। न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जयपुर मौसम विभाग के अनुसार 2 से 5 दिसंबर के बीच कहीं-कहीं ओले भी गिर सकते हैं। पश्चिमी विक्षोभ से बन रहे सिस्टम का असर 4 दिसंबर तक बना रहेगा। 3 और 4 दिसंबर को भरतपुर, धौलपुर सहित अजमेर, टोंक और नागौर, जयपुर, दौसा, अलवर, सवाई माधोपुर और करौली जिलों में बारिश हो सकती है।

श्रीलंका के तटीय चक्रवात से बढ़ेगा कोहरा और सर्दीः श्रीलंका में भी तटीय चक्रवात बना हुआ है। इस सिस्टम के अरब सागर में पहुंचते ही 1 दिसंबर से असर दिखेगा। इधर, अंडमान और बंगाल की खाड़ी में बन रहे कम दबाव का क्षेत्र का असर 4-5 दिसंबर से होगा। अरब सागर में सिस्टम सक्रिय होने से 2 दिसंबर से बादल/ बारिश का दौर शुरू हो सकता है। इसके बाद कोहरा असर दिखाएगा।

खबरें और भी हैं...