पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह की नसीहत:बीजेपी के नेता अपनी पार्टी को छोड़ कांग्रेस पर दें बयान, खुद के दल पर बयान देने से पार्टी को होता है नुकसान

भरतपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और सांसद रंजीता कोली। - Dainik Bhaskar
प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और सांसद रंजीता कोली।

बीजेपी के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह बुधवार को भरतपुर पहुंचे। इस दौरान अरुण सिंह ने बीजेपी नेताओं को नसीहत देते हुए कहा की जिसे भी कोई बात रखनी हो वह बात पार्टी के अंदर ही रखनी चाहिए। सार्वजनिक रूप से कोई भी नेता ऐसी बात न कहे जिससे पार्टी को नुक़सान हो। आज अरुण सिंह भरतपुर बीजेपी की कार्य समिति की बैठक को संबोधित करने पहुंचे थे लेकिन इस दौरान बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने कोरोना की गाइडलाइंस की जमकर धज्जियां उड़ाईं।

बीजेपी के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने पार्टी में चल रही गुटबाजी को लेकर कहा की बीजेपी पार्टी में कोई गुट नहीं यह सिर्फ एक ही गुट है वो भी भारतीय जनता पार्टी, इसके अलावा पूर्व कैबिनेट मंत्री रोहिताश शर्मा के बयान के बाद अरुण सिंह ने अपनी ही पार्टी के नेताओं को नसीहत देते हुए कहा की बीजेपी के लोग जो बयान दें पार्टी के अंदर ही दें ऐसी कोई भी बयानबाजी न करें जिससे पार्टी को नुकसान हो। बयान देते समय हर व्यक्ति को सोचना चाहिए की मेरे बयान से पार्टी को नुकसान तो नहीं हो रहा है।

अगर बीजेपी के नेताओं को बयान देना ही है तो कांग्रेस के कामकाज पर दे। कांग्रेस सरकार में महंगाई बढ़ रही है। अपराध चरम सीमा पर है। इस बारे में बीजेपी के नेताओं को गहलोत सरकार की कमियों को उजागर करना चाहिए। भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर हमला हुए कई महीने बीत चुके हैं लेकिन अभी तक उनके अपराधियों का कुछ पता नहीं लग पाया है इससे बड़ा प्रदेश का दुर्भाग्य क्या होगा मुख्यमंत्री अपने घर से निकलते नहीं है और प्रदेश का हाल बेहाल हो रहा है।

खबरें और भी हैं...