सजा मिली:जीजा पर तेजाब डालने वाले साले काे 7 साल की जेल, 50 हजार रुपए जुर्माना

वैर (भरतपुर)18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कस्बा वैर में 23 वर्ष पूर्व एक व्यक्ति ने अपने जीजा बृजभूषण पर तेजाब डालकर मारने का प्रयास किया। जिससे उसके जीजा की आंखों की रोशनी चली गई और वह सदैव के लिये अंंधा हो गया। इससे उसे नौकरी से भी हाथ धोना पडा। आरोपी की बहिन पूनम शर्मा ने ही अपने भाई राकेश के विरुद्ध मामला दर्ज कराया था।

वैर एसीजेएम विनोद कुमार बागडी ने आरोपी राकेश को 7 साल के कठोर कारावास की सजा व 50 हजार रूपये क अर्थदंड से दंडित किया है। जिसमें से 30 हजार रूपये की सहायता पीडित को देने के आदेश दिये है। अभियोजन अधिकारी सुरेंद्र सिंह पोखरिया ने बताया कि परिवादी वैर निवासी पूनम शर्मा ने मामला दर्ज कराया था कि उसके पति बृजभूषण शर्मा 2 नवम्बर 1998 की सुबह करीब 6 बजे बाहर लैटिन करने जा रहे थे।

जहां उनके घर से 10 कदम दूर निकलते ही परिवादी के भाई राकेश ने बृजभूषण पर तेजाब डालकर मारने का प्रयास किया। जिससे बृजभूषण के पहने हुये कपडे, नाक, कान व मुंह जल गये। जिसे उपचार के लिये भरतपुर ले गये। जहां इस वारदात से उसकी आंख की रोशनी चली गई और उसकी पोस्ट आफिस की नौकरी भी चली गई। राकेश ने घटना से पूर्व पूनम के पति बृजभूषण शर्मा को जान से मारने की धमकी दी थी। राकेश 5-6 माह से बृजभूषण शर्मा उसके पति को धमकी देता था तथा रोजाना खर्चे के लिए पैसे की डिमांड कर रहा था। पैसे नही देने पर आरोपी राकेश ने अपने जीजा पर तेजाब डाल दिया।

खबरें और भी हैं...