अंतरा का प्रशिक्षण:डॉ. मनीष चौधरी बोले - अंतरा इंजेक्शन से 3 माह तक अनचाहे गर्भ से मिलती है मुक्ति

भरतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परिवार कल्याण. पैरा मेडिकल स्टाफ को दिया अंतरा का प्रशिक्षण

अंतरा इंजेक्शन एक बार लगवाने से 3 माह तक अनचाहे का गर्भ खतरा नहीं रहता। परिवार नियोजन का यह सबसे सरल तरीका है। यह बात बुधवार को सीएमएचओ डा. मनीष चौधरी ने स्वास्थ्य भवन में कही। वे राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत भुसावर, नगर, बयाना और सेवर के पैरा मेडिकल स्टाफ के एक दिवसीय अंतरा प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि महिला की चैक लिस्ट प्रश्नावली द्वारा काउंसलिंग और महिलाओं के स्वास्थ्य की पूरी जानकारी लेना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है। इसके लिए लोगों को जागरूक किया जाना चाहिए। इसके लिए सभी को वैक्सीनेशन कराना चाहिए। जिससे सभी को समय रहते इसका फायदा मिल सके। इसके लिए और अधिक प्रचार- प्रसार करना चाहिए। इस दौरान सभी प्रशिक्षणार्थियों को एडिशनल सीएमएचओ डॉ लक्ष्मण सिंह के साथ प्रमाण पत्र वितरित किए गए।

इस दौरान एडिशनल सीएमएचओ डॉ सिंह ने कहा कि इस साल भी दो बच्चे वाले दंपतियों को परिवार कल्याण कार्यक्रम के प्रति प्रेरित करते हुए शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करें। मास्टर ट्रेनर डॉ. धर्मेश आर्य, डॉ. राहुल मीणा, आईपी ग्लोबल की संभाग स्तरीय प्रतिनिधि डॉ. नीलम दुबे ने सभी को प्रशिक्षण दिया। डॉ. नीलम दुबे ने अंतरा इंजेक्शन लगाने की विधि एवं होने वाले प्रभाव और उनके इलाज के बारे में बताया।

खबरें और भी हैं...