पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धर्म-समाज:सामान्य दिनचर्या में भाषा शैली की सहजता आवश्यक : वसुनंदी महाराज

कामां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

परिस्थितियों के अनुसार सहज भाषा शैली का उपयोग करने से श्रवण करने वाले के परिणाम भी सहज ही होते हैं क्योंकि असहज(कठिन) भाषा के उपयोग से श्रोता उसको समझने में ही उलझ कर रह जाता है अपितु असहज भाषा का उपयोग अनुचित नही है किंतु उसके परिणाम अपेक्षित नही आ पाते हैं जैसे जल को पानी या जल कहने से सभी समझ जाते हैं जो कि सहज है यदि उसे तोय,अम्बु,नीर आदि शब्द का प्रयोग करें तो समझना सहज नही होगा जबकि वे अनुचित शब्द नही है।

अतः भाषा शैली की सहजता अति आवश्यक है। युक्त उद्गार जम्बू स्वामी की तपोस्थली बोलखेड़ा में विराजमान अभिलक्षण ज्ञानोपयोगी आचार्य वसुनंदी महाराज ने भक्तों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए कार्यक्रम के दौरान काम बन विकास फाउंडेशन के संयोजक समाजसेवी सचिन शर्मा व पूर्व पार्षद मयंक सिंघल ने भी आचार्य वसुनंदी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया और तपोस्थली पर विकसित हो रहे तीर्थ क्षेत्र के बारे में कि विकास के बारे में चर्चा की इस अवसर पर तीर्थ स्थली व्यवस्था कमेटी के अध्यक्ष रमेश चंद गर्ग ने समाजसेवी सचिन शर्मा व मनोज सिंघल का समिति की ओर से स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मान किया|

तपोस्थली व्यवस्था कमेटी के प्रचार प्रसार प्रभारी संजय जैन बड़जात्या ने बताया कि इन दिनों अतिशय क्षेत्र बोलखेड़ा गांव में आचार्य वसुनंदी महाराज ससंघ विराजमान है अनेकों आचार्य संघों व आर्यिका माताओं के संघों का आवागमन होता रहता है स्वेतपिच्छाचार्य विद्यानंद महाराज, गणिनी आर्यिका विजयमती माताजी, आचार्य कल्याण सागर,आचार्य विमल सागर महाराज,आचार्य ज्ञानभूषण महाराज, आचार्य वसुनंदी महाराज,आचार्य वर्धमान सागर महाराज,गणिनी आर्यिका गुरुनंदनी माताजी सहित अनेकों सन्तों का आवागमन होता रहा है।

सभी सन्त अपनी अपनी कठिन साधना में रत रहते हैं। आचार्य वसुनंदी महाराज का प्रथम आगमन इस अतिशय क्षेत्र पर वर्ष 2008 में हुआ तब इस क्षेत्र की शक्तियों का अहसास करते हुए वर्ष 2010 का वर्षायोग संघ सहित क्षेत्र पर सानन्द संपन्न हुआ था तब से अब तक क्षेत्र पर विकास की अनवरत धारा प्रवाहित हो रही है।

क्षेत्र के अध्यक्ष रमेश गर्ग जो एक रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी हैं बताते हैं कि वसुनंदी महाराज के निर्देश से आर्यिका वस्तिका,नवदेवता निलय, श्रावक धर्मशाला, समोशरण मन्दिर,अजितनाथ जिनालय,पंच मानस्तम्भ, जम्बूस्वामी जिनालय सहित अनेकों निर्माण योजनाएं संचालित हो रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें