7 साल में पहली बार:भैयादौज पर कोहरे की दस्तक अगले 2 दिन और गिरेगा पारा

भरतपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केवलादेव घना में शनिवार को भोर के कुहासे के बीच विचरण करते वन्य जीव। फोटो : छोटू खान - Dainik Bhaskar
केवलादेव घना में शनिवार को भोर के कुहासे के बीच विचरण करते वन्य जीव। फोटो : छोटू खान

भरतपुर सहित पूर्वी राजस्थान में सर्दी ने विधिवत दस्तक दे दी है। शनिवार को सुबह कोहरा रहा और रात का तापमान 12.8 डिग्री रिकार्ड किया गया, जो पिछले सात साल में भैया दौज पर सबसे कम है। क्योंकि दीपावली पर आतिशबाजी और पराली के धुएं के कारण मौसम में गर्माहट आ जाती है। दिन में पंखे चलाने पड़ते हैं। लेकिन शनिवार की सुबह कोहरे और ठंड भरी थी।

इसलिए सुबह भ्रमण करने और मंदिरों में मंगला की आरती करने वालों को ऊनी कपडे़ पहनने पडे़। मौसम विशेषज्ञ आरके सिंह के अनुसार पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है, जो रविवार को विदा हो जाएगा। किंतु इसके बाद तापमान गिरेगा और सर्द हवाएं चलेगी। इसलिए मौसम में नमी बनी हुई है। शनिवार को 76 प्रतिशत आद्रर्ता रही।

इसलिए सुबह/शाम धुंध रहेगी। सूरज भी सुबह देरी से दिखा। हालांकि दिन में तापमान कुछ ही बना रहा और सूरज की चमक कम रही। हाईवे वाहनों की गति प्रभावित हुई। तापमान में एक-दो डिग्री की गिरावट आ सकती है। शनिवार को दिन का तापमान 30 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं हवा की गति 1.8 किलोमीटर प्रतिघंटा थी।

आगे क्या : उत्तरी/पश्चिमी हवाओं से बढे़गी ठंड
मौसम विशेषज्ञ आरके सिंह के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ पूर्व दिशा की ओर से बढ़ रहा है। इससे मौसम में बदलाव आएगा। पहाड़ी इलाकों में बर्फवारी हो सकती है। इससे मौसम की स्थिति में बदलाव आएगा। हवा की दिशा बदलेगी। पूर्वी राजस्थान सहित एनसीआर क्षेत्र में उत्तर-पश्चिमी हवाएं चलने लगेंगी। इससे सर्दी बढेगी। इससे न्यूनतम तापमान में और गिरावट आएगी।

खबरें और भी हैं...