MP रंजीता कोली की कार पर पथराव:क्रेशर जोन का जायजा लेने गई थीं, काफिले के सामने खनन माफिया ने लगाए ट्रक

भरतपुर6 महीने पहले
क्रेशर जोन का जायजा लेती सांसद रंजीता कोली।

भरतपुर सांसद रंजीता कोली रविवार को पहाड़ी के नांगल क्रेशर जोन का दौरा करने पहुंची। जहां अवैध खनन माफियों ने सांसद रंजीता कोली की कार पर पथराव कर दिया। इतना ही नहीं खनन माफियों ने सांसद के काफिले के आगे ट्रक लगा दिए। सांसद के जाब्ते को रोकने की कोशिश की गई। हालांकि इस घटना में किसी के चोट नहीं आई। बाद में खनन माफिया भाग निकले।

सांसद रंजीता कोली ने कहा कि मुझे अवैध खनन की शिकायत मिली थी। इसलिए आज मैं खुद यहां पर पहुंची हूं। सांसद ने विधायक जाहिदा खान और प्रशासन की मिलीभगत से अवैध खनन किए जाने का आरोप लगाया। सांसद ने कहा- पहाड़ों का इतना खनन किया गया है कि यहां जमीन से पानी निकल आया। अगर अवैध खनन को नहीं रोका गया तो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे और केंद्र में भी शिकायत की जाएगी।

सांसद ने विधायक जाहिदा पर प्रशासन की मिलीभगत से अवैध खनन कराने का आरोप लगाया। कहा कि इतना खनन किया गया है कि भूजल जमीन पर आ गया।
सांसद ने विधायक जाहिदा पर प्रशासन की मिलीभगत से अवैध खनन कराने का आरोप लगाया। कहा कि इतना खनन किया गया है कि भूजल जमीन पर आ गया।

सांसद ने कहा- जब मैं नांगल क्रेशर का दौरा करने पहुंची तो खनन माफियाओं ने मुझे रोकने की कोशिश की। मेरी गाड़ी के आगे खनन माफियाओं ने ट्रक लगा दिए। प्रशासन यहां कोई कार्रवाई नहीं करता। क्योंकि यहां कांग्रेस की सरकार है। विधायक जाहिदा खान की मिलीभगत से यहां अवैध खनन किया जा रहा है। जब सांसद नांगल क्रेशर जोन के खसरा नंबर 162 पर पहुंचीं तो उनकी गाड़ी पर पथराव भी किया गया।

सांसद रंजीता ने बताया कि जब वे क्रेशर जोन पर पहुंचीं तो इस बारे में पहाड़ी प्रशासन को पता लग गया और अवैध खनन कर रही मशीनें वहां से हटाई जाने लगी। सांसद के पहुंचने के डेढ़ घंटे बाद प्रशासन पहुंचा। इस मामले को सांसद ने मामला दर्ज करवाया है।

पहले भी हो चुके हैं सांसद रंजिता कोली पर हमले

भाजपा से भरतपुर सांसद रंजिता कोली पर पहले भी हमले हो चुके हैं। पिछले साल नवंबर में उनके आवास के बाहर हमलावरों ने 3 राउंड फायर किए थे। उनके घर के बाहर जान से मारने की धमकी भरा पोस्टर भी चिपकाया गया था। इसके बाद सांसद की तबियत बिगड़ गई थी और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इससे पहले पिछले साल ही मई महीने में रंजिता कोली पर देर रात तब हमला किया गया जब वे एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर लौट रहीं थीं। उनकी कार पर हमला किया गया था। हमलों के बाद सांसद की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

घनश्याम तिवाड़ी BJP से राज्यसभा उम्मीदवार:कांग्रेस से अभी कोई नाम सामने नहीं आया, राजस्थान की 4 सीटों पर चुनाव

आवाज उठाई तो गोलियों से भून देंगे...VIDEO:कारों के काफिले के साथ फायरिंग कर बदमाशों ने पूरे गांव को धमकाया