पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

5 ड्राइविंग स्कूलों को आरटीओ ने दिए नोटिस:ड्राइविंग सिखाने के बजाय अवैधड्राइविंग सिखाने के बजाय अवैध खनन-माल ढुलाई में लगे हैं ट्रक खनन-माल ढुलाई में लगे हैं ट्रक

भरतपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मोटर ड्राइविंग स्कूलों के प्रशिक्षण वाहन शहर में लोगों को ड्राइविंग सिखाने के बजाय अवैध खनन सामग्री ढोने अथवा अन्य माल ढोने का काम कर रहे हैं। ई-वे बिल और ई-रवन्ना के आधार पर पकड़े गए कुछ वाहनों को लेकर प्रादेशिक परिवहन अधिकारी ने 5 ड्राइविंग स्कूलों को नोटिस दिए है। खनन सामग्री के परिवहन और अन्य कार्यों में लिप्त होने के कारण इन वाहनों को ड्राइविंग स्कूल से हटा दिया गया है।

साथ ही स्कूल संचालकों से 3 दिन में जवाब मांगा गया है। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई जा सकती है। प्रादेशिक परिवहन अधिकारी कार्यालय के अनुसार जो वाहन प्रशिक्षण के बजाय माल ढोने के अन्य कामों में लिप्त पाए गए हैं, उनमें गिर्राज मोटर ड्राइविंग स्कूल का वाहन संख्या आरजे05 जीबी 0557 के नाम 3 जून को ई वे बिल संख्या 341322431951 जारी होना पाया गया है।

भोले साईं मोटर ड्राइविंग स्कूल का वाहन संख्या आरजे-14 जीडी 5945 के नाम 1 जून, 2021 को ई वे बिल संख्या 781191701153, ओम मोटर ड्राइविंग स्कूल के भारी वाहन संख्या आरजे 05 जीए 8546 पर 31 मार्च को ई वे बिल संख्या 721184067246 जारी हुआ।

जबकि अमन मोटर ड्राइविंग स्कूल के वाहन संख्या आरजे 05 जीबी 2119 के नाम पर 27 नवंबर, 2020 को मेसेनरी स्टोन की ढुलाई के लिए ई रवन्ना एलवाईआईएस-103150590 और शिक्षार्थी मोटर ड्राइविंग स्कूल के भारी वाहन संख्या आरजे 05 जीबी 2437 पर 31 मार्च,2021 को ई रवन्ना संख्या बीएमएफवाई-12508202 कटा हुआ है।

ड्राइविंग ट्रेनिंग वाले वाहनों को दूसरे काम में नहीं ले सकते: आरटीओ
मोटर ड्राइविंग स्कूलों के हैवी वाहन केवल प्रशिक्षण में ही काम में लिया जा सकता है। इनका कॉमर्शियल और माइनिंग में उपयोग गैरकानूनी है। हमने सेल्स टैक्स विभाग से जीएसटी के ई-वे बिल और खान विभाग से ई-रवन्ना की सूचना ली तो इस फर्जीवाड़े का पता चला। प्रथम दृष्टया मोटर ड्राइविंग स्कूलों के हैवी वाहनों का अन्य कार्य में उपयोग लिया जाना पाया है। 5 को नोटिस दिए हैं।-सतीश कुमार, आरटीओ

खबरें और भी हैं...