पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अच्छी खबर:भरतपुर में तैयार हो रहा है इंटरनेशनल लेवल का खेल मैदान, अगले माह से होंगे मैच

भरतपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इंटरनेशनल स्तर के क्रिकेट मैदान की तैयार हाेती पिच।
  • आगरा हाइवे पर तैयार हो रही पिच पर निशुल्क अभ्यास कर सकेंगे खिलाड़ी, वरमूडा सलेक्शन वन घास लगाई जा रही है

भरतपुर के क्रिकेटर्स के लिए अगले महीने से अंतरराष्ट्रीय स्तर के मैदान पर खेलने की सुविधा मिलने लग जाएगी। इसके लिए जिला क्रिकेट संघ और मॉर्डन स्कूल के संयुक्त तत्वावधान में आगरा हाइवे पर मैदान तैयार कराया जा रहा है, जो कि 76 मीटर व्यास का होगा। यहां खिलाड़ी निशुल्क प्रेक्टिस कर सकेंगे। आईपीएल में 65 से 70 मीटर का ग्राउंड होता है, जबकि भरतपुर का मैदान 76 मीटर का मैदान होगा। जो कि वन डे और टेस्ट मैच स्तर का है।

इसमें अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार वरमूडा सलेक्शन वन घास लगाई जा रही है जिसमें फील्डर को जंप और डाई मारने पर चोट नहीं लगेगी। ड्रेनेज सिस्टम लगाया जा रहा है इससे मैदान में घास के कारण गर्मी नहीं लगेगी और ज्यादा समय तक मैदान में खिलाड़ी टिका रह सकता है। साथ ही तीन पिच 80 गुणा 30 फुट के तैयार हो रही है।

इस पिच को अंतरराष्ट्रीय स्तर के क्यूरेटर और पिच एक्सपर्ट तापोस चटर्जी की देखरेख में तैयार कराया जा रहा है। पिच को इंटरनेशनल लेवल का बनाने के लिए दो फीट गहरा खोदा गया है, जिसमें सेंड स्टोन, गिट्टी, कोयला चूरा, काली चिकनी मिट्टी,कैमिकल एवं घास लगाई जा रही है। इससे बाउंस अच्छा होगा।

गेंद की सेफ नहीं बदलेगी और लंबे समय चलेगी। मैदान को तैयार करने में करीब 15 लाख रुपए खर्च हो रहे हैं। मैदान में विकेट से बाउंड्री तक एक फुट का ढलान रखा गया है। इससे बारिश का पानी नहीं ठहरेगा और ग्राउंड की आउट फील्ड फास्ट होगी।

खिलाड़ी की फील्डिंग में सुधार होगा। भविष्य में यहां पेवेलियन और फ्लड लाइट लगाने की योजना है। इससे रात में भी मैच हो सकेंगे। डीसीए सचिव शत्रुधन तिवारी ने बताया कि इस संबंध में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन को प्रस्ताव बना कर भेजा जा रहा है। क्योंकि यह करीब दो करोड़ रुपए का प्लान है।

क्रिकेट में भविष्य तलाश रहे खिलाड़ियों को मिलेगी सुविधा
इस मैदान के तैयार हो जाने से क्रिकेट में भविष्य तलाश रहे खिलाडियों को जयपुर नहीं जाना होगा। लगभग 40 से ज्यादा खिलाड़ी जयपुर में जाकर क्रिकेट की कोचिंग ले रहे हैं। चूंकि डीसीए के पास बालिंग मशीन, बेटिंग ड्रिल मशीन, थ्रोअर साइड आर्म, कैच प्रेक्टिस बैट, फ्लेक्स विकेट सहित सभी प्रकार के रोलर उपलब्ध हैं। इससे खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुसार तैयारी करने की सुविधा मिलेगी।

इससे खिलाड़ी स्टेट और नेशनल स्तर की प्रतियोगिताओं में और बेहतर रिजल्ट दे पाएंगे। डीसीए के सचिव शत्रुधन तिवारी ने बताया कि हमारे खिलाड़ियों में स्टेमना की कमी नहीं है, लेकिन बडे़ मैदानों में बेहतर रिजल्ट नहीं दे पाते, क्योंकि वहां के मैदान और हमारे प्रेक्टिस मैदान में काफी अंतर होता है।

वहीं, मॉर्डन स्कूल के संचालक डॉ. शैलेषसिंह ने बताया कि उक्त मैदान हमारे स्कूल के बच्चों के अलावा डीसीए द्वारा भेजे गए खिलाड़ियों के लिए निशुल्क प्रेक्टिस के लिए उपलब्ध रहेगा। मैदान की देखरेख का जिम्मा डीसीए के पास रहेगा।

अब दो मैदान हो जाएंगे
मॉर्डन स्कूल में तैयार हो रहे क्रिकेट मैदान के साथ क्रिकेटर्स के लिए दो अच्छे मैदान हो जाएंगे। क्योंकि एक मैदान सेवर बाईपास पर पहले से है, जो 55 मीटर का है, जिसमें अंडर-14 और अंडर-16 खिलाड़ी ही खेल सकते हैं। सीनियर खिलाड़ियों के लिए यह छोटा है। पिच भी एक ही है। उल्लेखनीय है कि भरतपुर के आकाशसिंह, राहुल चाहर आईपीएल में खेल रहे हैं। इसके अलावा हिमांशु शर्मा अंडर-19 इंडिया-ए खेल चुके हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें