दहेज नहीं लाई तो घर से निकाला:2 महीने के बेटे को रखा, अब मां बेटा दिलाने की पुलिस से लगा रही गुहार

सीकर, भरतपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भरतपुर जिले की सीकरी थाना इलाके की रहने वाली एक महिला ने अपने ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। महिला का कहना है कि जब ससुराल वालों की दहेज की मांग पूरी नहीं हुई तो उन्होंने घर से बाहर निकाल दिया और उसके दो महीने के बेटे को अपने पास ही रख लिया।

सीकरी कस्बे में रहने वाली पिंकी ने बताया कि 2 साल पहले उसकी शादी बरका कोसीकलां के रहने वाले सुनील से हुई थी। उसी दिन उसकी चचेरी बहन संजू की शादी सुनील के छोटे भाई कपिल से हुई थी। शादी के बाद से ही दोनों बहनों के पति सास शकुंतला, ननद बबिता कम दहेज लाने के ताने मारने लगी, जब दोनों बहनों ने ससुराल वालों की मांग पूरी नहीं कि तो वह दोनों बहनों के साथ मारपीट करने लगे। वह दोनों बहनों को खूब प्रताड़ित करते और कुछ दिनों बाद उन्होंने संजू को जहर पिलाकर उसकी हत्या कर दी।

अब 2 महीने पहले पिंकी के बेटा हुआ तो ससुराल वाले मांग करने लगे कि वह बच्चे के जलवा कार्यक्रम में 51 हजार रुपए और एक मोटरसाइकिल लेकर आए। जब उसने मना किया तो ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट की और 9 मई को उसका पति उसे घर छोड़ गया और बेटे को रख लिया, साथ ही धमकी दी कि अगर वह उनकी डिमांड पूरी नहीं करेगी तो वह दूसरी शादी कर लेगा। अब पिंकी अपने बेटे को वापस लाने की पुलिस से गुहार लगाई है।

रिपोर्ट- उमेश बंसल, सीकर, भरतपुर