कांग्रेस का लखीमपुर खीरी पैदल मार्च:यूपी पुलिस की नहीं दिखी कोई रोकटोक, बॉर्डर से लौटे डोटासरा, बोले- राहुल, सोनिया गांधी जब पीड़ित परिवार से मिल लिए तो जाने का क्या फायदा

भरतपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बॉर्डर की तरफ जाते कांग्रेस कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
बॉर्डर की तरफ जाते कांग्रेस कार्यकर्ता।

भरतपुर के ऊंचा नगला से गुरुवार को लखीमपुर खीरी पैदल मार्च तो निकला, लेकिन सभी कांग्रेसी बॉर्डर से ही लौट आए। प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की अगुवाई में कई विधायक और कांग्रेस कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी तक पैदल मार्च निकाल रहे थे। ऊंचा नगला से यूपी के बॉर्डर में दाखिल हुए तो उन्होंने यूपी पुलिस की कोई रोक टोक नहीं देखी जिस पर डोटासरा और कांग्रेस विधायकों ने लखीमपुर खीरी जाने का मूड बदल लिया। डोटासरा बॉर्डर से यह कहकर वापस भरतपुर की तरफ लौट लिए की शुक्रवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी के पीड़ित किसानों से मिल लिए इसलिए हमारे जाने की कोई जरुरत नहीं है।

बॉर्डर पर नारेबाजी करते कांग्रेस कार्यकर्ता।
बॉर्डर पर नारेबाजी करते कांग्रेस कार्यकर्ता।

बॉर्डर से लौटे कांग्रेसी

कांग्रेस के पैदल मार्च के लिए भरतपुर कांग्रेस ने काफी तैयारी की थी। ऊंचा नगला बॉर्डर पर एक पंडाल तैयार किया गया जिसमें कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा और कांग्रेस के विधायकों ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। कुछ देर बाद प्रदेशाध्यक्ष, विधायक, और कांग्रेस के कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी के लिए निकले, लेकिन जब बॉर्डर पहुंचे तो वहां तैनात यूपी पुलिस उन्हें देख वहां से चली गई बॉर्डर पर कोई रोक टोक नहीं देख बॉर्डर पर पीएम मोदी और सीएम योगी का पुतला दहन कर लखीमपुर खीरी जाने का मूड बदल लिया और वापस भरतपुर का रुख कर लिया।

यूपी पुलिस बैरेकेटिंग लगाते हुए।
यूपी पुलिस बैरेकेटिंग लगाते हुए।

यूपी पुलिस ने नहीं रोका

यूपी पुलिस ने पहले तो बैरिकेडिंग की, लेकिन कुछ देर बाद इसे हटा दिया। यूपी पुलिस के अधिकारियों ने कहा की उन्हें किसी को रोकने के आदेश नहीं हैं। अगर कोई भी राजस्थान के कांग्रेस का नेता यूपी की तरफ जाना चाहता है तो जा सकता है।

क्या बोले डोटासरा

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद डोटासरा ने कहा की जब तक किसानों के हत्यारे को गिरफ्तार नहीं किया जाता, मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त नहीं किया जाता और तीन कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक कांग्रेस किसानों के साथ आंदोलन करेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ऊंचा नगला नहीं आने पर डोटासरा ने बताया की कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता कांग्रेस आलाकमान के साथ हैं। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य ख़राब होने की वजह से नहीं आ पाए।

खबरें और भी हैं...