9 माह के बेटे संग मां ने किया आत्मदाह:सास से झगड़े के बाद आपा खोया, बाइक से पेट्रोल निकाल लगाई आग

भरतपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक महिला और उसका बेटा। - Dainik Bhaskar
मृतक महिला और उसका बेटा।

चिकसाना के सैंथरा गांव में शुक्रवार शाम करीब 4 बजे 23 वर्षीय विवाहिता ने दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम दिया। सास से झगड़े के बाद उसने बाइक से पेट्रोल निकाला। पति के पास सो रहे 9 माह के बेटे को लाई और अंदर से कमरा बंद करके खुद को आग लगा ली।

कमरे में आग की लपटें उठती देख आसपास के ग्रामीणों ने बचाने का प्रयास भी किया। लेकिन, मां-बेटे की मौत हो गई। हालांकि पीहर पक्ष ने ससुराल वालों के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज कराया है। पिता भगवान सिंह का आरोप है कि ससुराल वाले दहेज में 3 लाख रुपए नकद और बुलेट बाइक मांग रहे थे। इसके लिए वे आए दिन विवाहिता से मारपीट करते थे। आखिरी बार घटना से 2 दिन पहले 11 मई को उसने फोन पर घर वालों को शिकायत भी की थी।

पुलिस के मुताबिक प्रारंभिक पूछताछ से पता चला कि विवाहिता श्रीमती (23) का सास से झगड़ा सुबह हुआ था। उसके बाद मामला शांत भी हो गया था। लेकिन, शाम 4 बजे जब उसकी सास, ससुर और पति घर में सोए हुए थे, तब उसने इस घटना को अंजाम दिया। आग की लपटों में घिरने के बाद उसने चीख-पुकार मचाते हुए दरवाजा खोला और बाहर आई। ग्रामीण और परिजन झुलसी अवस्था में मां-बेटे को आरबीएम अस्पताल ले गए। जहां बच्चे की मृत्यु हो गई। जबकि विवाहिता ने जयपुर के रास्ते में दम तोड़ा।

पीहर पक्ष का आरोप...3 लाख रुपए और बुलेट बाइक नहीं दी इसलिए ससुरालवालों ने जलाया

पिता बोला- 9 फरवरी, 2020 में की थी शादी, करीब 8 लाख रुपए खर्च हुए थे
इधऱ, बछामदी निवासी भगवान सिंह जाटव ने एफआईआर में आरोप लगाया है कि इकलौती बेटी श्रीमती की शादी 9 फरवरी 2020 को सैंथरा निवासी दिगंबर जाटव से की थी। शादी में 8 लाख रुपए खर्च किए। दहेज में 2.51 लाख रुपए नकद, बाइक, जेवरात और अन्य घरेलू सामान दिया था। लेकिन, ससुराल वाले 3 लाख रुपए और एक बुलेट बाइक और देने की मांग कर रहे थे। इसके लिए वे उसकी बेटी को परेशान और मारपीट करने लगे।

अप्रेल में फिर 2 मई को भी बेटी से मारपीट की गई थी। उन्हें समझाने की कोशिश की। लेकिन, वे नहीं माने। घटना के 2 दिन पहले भी 11 मई को बेटी ने फोन करके उन्हें मारपीट की बात बताई थी। लेकिन, 13 मई की शाम पता चला कि बेटी श्रीमती और नवासे शिवा को ससुराल वालों ने जलाकर मार दिया है।

मृतकों का मेडिकल बोर्ड से कराया है पोस्टमार्टम
अब तक की जांच से पता चला है कि विवाहिता ने सास से झगड़े के बाद बच्चे और खुद पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगाई। पति, सास और ससुर घर में ही सो रहे थे। घटना से पहले वह बेटे को पति के पास उठाकर लाई थी। मां-बेेटे का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया है। एफएसएल, मोबाइल टीम और पुलिस ने भी मौके से जरूरी सबूत जुटाए हैं। आरोपी पति दिगंबर और ससुर ओमप्रकाश को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। -बृजेश ज्योति उपाध्याय, सीओ ग्रामीण

खबरें और भी हैं...