पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्यक्रम:भाषा का संयम, भाषा की मर्यादा और भाषा का माधुर्य वर्तमान समय के लिए बेहद जरुरी :गोयल

भरतपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजयोगिनी दादी प्रकाशमणि की 13 वीं पुण्यतिथि विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाई

प्रजापिता ब्रह्मा कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय सेवा केंद्र पर राजयोगिनी डॉ दादी प्रकाशमणि की 13 वीं पुण्य तिथि विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाई गई। मुख्य अतिथि अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर राजेश गोयल थे। मुख्य वक्ता अमरसिंह एडवोकेट रहे।

अध्यक्षता ब्रह्माकुमारी बबिता बहिन ने की। इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने कहा कि भाषा का संयम,भाषा की मर्यादा और भाषा का माधुर्य ये तीनों चीजें वर्तमान समय के लिए बेहद जरुरी हैं। हमारा उद्देश्य है की हम अच्छे काम के निमित्त बनें।

अमरसिंह एडवोकेट ने कहा की दादी प्रकाशमणि ने अपने विचारों से मानव सभ्यता को लाभंावित किया। ब्रह्माकुमारी बबिता बहिन ने कहा की प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय में पूरी जिंदगी देने वाली दादी प्रकाशमणि ने इस संस्था को नन्हे से पौधे से वटवृक्ष बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

विशिष्ट अतिथि रमेश सैनी ने कहा की विश्व बंधुत्व दिवस का दिवस हम तभी मना पाएंगे जब उसे जीवन में क्रियान्वित करेंगे। किसी भी व्यक्ति के चले जाने के बाद उनके लिए जो ह्रदय में भाव है वही सच्ची श्रद्धांजलि है। विशिष्ट अतिथि पुनीत शर्मा, महेश गुप्ता ने भी दादी को अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए।
बयाना. कस्बे के आर्य समाज राेड स्थित प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के उपसेवा केन्द्र पर मंगलवार काे संस्था की मुख्य प्रशासिका रहीं डॉ. दादी प्रकाशमणि का पुण्य स्मृति दिवस सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एसडीएम सुनील आर्य एवं विशिष्ट अतिथि अग्रवाल सम्मेलन के राष्ट्रीय सचिव राजेश गोयल रहेे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता राजयोगिनी कमलेश बहन ने की। ईश्वरीय स्मृति गीत के साथ शुरु हुए कार्यक्रम में अतिथियाें ने दादी प्रकाशमणि के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। अतिथियाें ने अपने उदबाेधन में दादी प्रकाशमणि के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser