पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से जंग:95 साल के पूर्व सांसद पंडित रामकिशन व उनकी पत्नी ने 25 दिन में कोरोना को दी मात

भरतपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एक्सरसाइज करते पूर्व सांसद पं. रामकिशन और व्यायाम करती पूर्व सांसद की पत्नी।
  • कोरोना को हराने में मजबूत इच्छा शक्ति का रोल बेहद अहम, बीमारियों से पहले से लड़ रहे हमारे बुजुर्गों ने महामारी को मात देने में दिखाई जबरदस्त संकल्प शक्ति

कोरोना से जंग में आत्मविश्वास का भी जबरदस्त योगदान है। इसके प्रमाण हैं शहर के ऐसे बुजुर्ग जिन्होंने अपनी इच्छाशक्ति के दम पर कोरोना को मात दे दी है। 95 साल के पूर्व सांसद पंडित राम किशन व अन्य बुजुर्ग इसकी मिसाल हैं। पंडित रामकिशन व उनकी पत्नी सहित परिवार के 17 लोगों ने कोरोना की जंग जीती है, दुख की बात यह है कि उन्होंने एक बेटे को खो दिया है।

पंडित रामकिशन व उनकी पत्नी ने 25 दिन तक कोरोना से संघर्ष किया। ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए हर रोज सवा 2 घंटे रेस्टोमीटर पर कसरत की। उनके परिवार को कोरोना ने अगस्त में अपनी जद में लेना शुरू कर दिया था। पुत्र शिशर कुमार उर्फ गिरधर की जयपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई।

28 सितम्बर को उनकी खुद की कोरोना जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। पत्नी कृष्णादेवी भी पाॅजिटिव निकलीं। परिवार के 17 लोग संक्रमण के शिकार हो गए। सभी आरयूएचएस जयपुर में भर्ती रहे। पूर्व जिला परिषद सदस्य इन्दलसिंह जाट बताते हैं कि पंडित रामकिशन का वर्तमान में ऑक्सीजन का लेवल 95 है एवं कृष्णादेवी का 97 है।

ऑक्सीजन का लेवल बढ़ाने के लिए रेस्टोमीटर के द्वारा प्रतिदिन सवा दो घंटे कसरत कर रहे हैं, जिसको देख परिजन एवं अन्य रोगी सहित चिकित्सक भी हैरान हैं। इधर, रविवार को कोरोना के 51 नए मरीज मिले। जिले में अभी तक कुल 5598 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 92 लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक 5265 लोग रिकवर्ड होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं दूसरी ओर वर्तमान में 241 केस अभी एक्टिव हैं।

अस्पताल में हुई अच्छी देखभाल तो आज मैं हूं ठीक : बयानिया

  • मुझे बुखार आया था तो कुछ अंदेशा हुआ। मैंने कोरोना टेस्ट कराया तो 9 सितंबर को पॉजिटिव आ गया। 10 दिन आरबीएम अस्पताल में भर्ती रहा, जहां मेरी अच्छी देखभाल हुई। दो बार लगातार पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद तीसरी बार नेगेटिव रिपोर्ट आ गई। 19 सितंबर को कोरोना की जंग हराकर में घर आ गया। इलाज ने काम किया लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी और ठीक हो गया। - शिवचरण लाल बयानिया, उम्र 92 साल बयानिया मोहल्ला, भरतपुर

बीमारी हार्ट की थी, फिर भी जीती कोरोना संक्रमण की जंग : अग्रवाल

  • मैं हार्ट के इलाज के लिए 14 जून को जयपुर गया जहां पॉजिटिव निकला। 29 जून को नेगेटिव रिपोर्ट आने पर घर लौटा। फिर दिक्कत हुई तो वापस 1 जुलाई को जयपुर गए, जहां फिर कोरोना जांच हुई तो पॉजिटिव आई। अस्पताल में दूसरी जांच नेगेटिव आने से पहले ही छुट्टी कर दी गई इसलिए दोबारा जाना पड़ा और 80% फेफड़े इनफेक्टिव हो गए। परंतु डॉक्टरों का इलाज और विलपॉवर ने कोरोना को हरा दिया। - फूलचंद अग्रवाल, उम्र 82 साल निवासी रणजीत नगर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें