पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब मिलावटखोरों की खेर नहीं:जल्द मिलेगी मिलावट की रिपोर्ट तो जल्द होगी कार्रवाई, खाद्य प्रयोगशाला को FSSAI से मिली मान्यता

भरतपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर की खाद्य प्रयोगशाला का भवन। - Dainik Bhaskar
भरतपुर की खाद्य प्रयोगशाला का भवन।

भरतपुर जिले में अब मिलावट करने वालों पर जल्द शिकंजा कसने वाला है। क्योंकि FSSAI ने भरतपुर की जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला को मान्यता दे दी है। जिसके बाद अब जिले में ही खाद्य पदार्थों की जांच आसानी से हो सकेगी। जल्द से जल्द मिलावट करने वालों के ख़िलाफ़ कार्रवाई भी की जा सकेगी।

पहले खाद्य पदार्थों की जांच के लिए सैंपल अलवर भेजे जाते थे। वहां से रिपोर्ट आने में काफी समय लग जाता था। इस लंबी प्रक्रिया की वजह से मिलावट खोर आसानी से बच जाते थे। अब स्वास्थ्य विभाग को कार्रवाई के लिए इंतजार नहीं करना होगा। भरतपुर के अलावा धौलपुर, करौली सहित आसपास के इलाकों के खाद्य पदार्थों की जांच भी भरतपुर में ही होगी।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कप्तान सिंह ने बताया कि जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला को दिल्ली FSSAI से मान्यता मिल गई है। अब प्रयोगशाला में सभी तरह के सैंपल की जांच हो सकेंगी। और सभी रिपोर्ट जल्द मिलने के कारण मिलावटखोरों पर आसानी से शिकंजा कसा जा सकेगा।